अबोध बच्चे की कनपटी पर तमंचा सटा कर लाखों का सामान लूट गये बदमाश

बदमाशों के खंगाले बाद घर में पड़ा सामान एवं खाली डिब्बों को देखती तकदीर जहाँ।

बदायूं जिले में आपराधिक वारदातों की बाढ़ सी आ गई है। एक के बाद एक जघन्य वारदात घटित हो रही है। बेखौफ बदमाश जैसे चाह रहे हैं, वैसे घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं और पुलिस कुछ नहीं कर पा रही है। मुकदमा दर्ज न कर, अथवा संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज न कर के पुलिस बदमाशों की ही मदद करती नजर आ रही है। बीती रात भी बदमाशों ने जमकर कहर ढाया और लाखों रूपये का माल लूट कर आसानी से फरार हो गये।

दुस्साहसिक वारदात अलापुर थाना क्षेत्र के गाँव उरौलिया है, यहाँ बीती रात छत के रास्ते से आधा दर्जन सशस्त्र बदमाश तकदीर जहाँ के घर में घुस गये। बदमाश सेफ, संदूक वगैरह की चाबी मांगने लगे। तकदीर ने मना किया, तो बदमाशों ने उसके डेढ़ वर्ष के बेटे को गोद से छीन लिया और उसकी कनपटी पर तमंचा रख दिया, जिससे डर कर तकदीर ने न सिर्फ चाबियाँ दे दीं, बल्कि गहनों के रखने का स्थान भी बता दिया। दो बदमाश तकदीर के सीने पर तमंचा लगा कर खड़े रहे और बाकी घर खंगालते रहे। बदमाश सोने-चांदी के कीमती गहने, पीतल के कीमती बर्तन और वीवीआईपी के कपड़ों सहित पांच सूटकेस सहित लाखों रूपये का सामान ले गये।

बदमाश छत तक डेढ़ वर्ष के बच्चे को भी साथ ले गये और उतरते समय छत पर बच्चे को छोड़ गये। बदमाशों के जाने का अहसास होने के बाद तकदीर ने छत पर जाकर बच्चे को उठाया और फिर चीख कर रो उठी, तब मोहल्ले के लोग जागे और फिर सभी ने उसे सांत्वना दी। तकदीर जहाँ का शौहर समर खां दिल्ली में रहता है। तकदीर ने थाना अलापुर में तहरीर दे दी है, लेकिन पुलिस ने अभी तक मुकदमा दर्ज नहीं किया है। पीड़ित का कहना है कि बिजली के उजाले में उसने सभी बदमाशों के चेहरे पहचान लिए हैं, जिन्हें वह सामने आने पर पहचान लेगी। घटना को लेकर गाँव में दहशत व्याप्त है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

Leave a Reply