दुकान के सामने ठेला लगाने से मना करने पर बवाल

आक्रोशित व पीड़ित पक्ष को समझाते सीओ सिटी राजेन्द्र सिंह थामा।
आक्रोशित व पीड़ित पक्ष को समझाते सीओ सिटी राजेन्द्र सिंह थामा।

बदायूं जिले में कानून का राज स्थापित नहीं हो पा रहा है। हालात इतने भयानक होते जा रहे हैं कि दबंग और गुंडे खुलेआम मनमानी करते नजर आ रहे हैं। दुकान के सामने ठेला लगाने से मना करने पर आज बवाल हो गया, साथ ही बवाल ने सांप्रदायिक रूप भी धारण कर लिया। मुकदमा तो दर्ज हो गया है, लेकिन पुलिस ने अभी तक बवालियों के विरुद्ध कोई ठोस कार्रवाई नहीं की है।

बवालियों द्वारा फेंकी गई बोतलों के टुकड़े।
बवालियों द्वारा फेंकी गई बोतलों के टुकड़े।

दुस्साहसिक वारदात बदायूं जिले में स्थित कस्बा बिनावर की है। बरेली हाइवे पर स्थित इस कस्बे में थाना भी है, जहां थानाध्यक्ष के पद पर जमीर उल हसन तैनात हैं। बताते हैं कि सुरेश गुप्ता की किराने की दुकान के सामने काले हसन नाम का व्यक्ति दबंगई से फलों का ठेला लगाता है, जिससे सुरेश गुप्ता की दुकान का रास्ता बाधित हो जाता है एवं गंदगी के चलते उनकी दुकान की बिक्री प्रभावित होती है, उन्होंने दुकान के सामने ठेला लगाने से मना किया, तो काले हसन गुंडई पर उतर आया और खबर भेज कर मोहल्ले से दर्जनों लोग बुला लिए, फिर सभी ने मिल कर पूरे बाजार में बवाल किया। चाकू और छुरों के वार से कई लोग घायल हुए हैं एवं पथराव के चलते कई लोग चुटैल भी हुए हैं। काफी देर तक बाजार में दंगाइयों का ही राज रहा, लेकिन दस कदम दूर स्थित पुलिस दंगाइयों को दबोचने में नाकाम रही। बताते हैं कि काले हसन सट्टा की लगवाता है, जिससे उसके पुलिस से अच्छे संबंध हैं।

थाने के सामने खड़े बवाल में घायल हुए लोग।
थाने के सामने खड़े बवाल में घायल हुए लोग।

बवाल के बाद एक पक्ष के लोगों ने थाने का घेराव कर लिया और थानाध्यक्ष जमीर उल हसन पर पक्षपात करने का आरोप लगाया, साथ ही मुकदमा लिखाने की भी मांग की। सूचना पर पहुंचे सीओ सिटी राजेन्द्र सिंह थामा ने पीड़ित पक्ष की बात सुनी और उन्हें न्याय पूर्ण कार्रवाई कराने का आश्वासन दिया। सुरेश गुप्ता के पक्ष की ओर से दस लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया गया है। घायलों को उपचार हेतु बदायूं भेज दिया गया है, लेकिन पुलिस अभी तक एक भी बवाली को गिरफ्तार नहीं कर सकी है।

Leave a Reply