बवाल के बीच नरेंद्र मोदी का पुतला फूंका, पथराव, आगजनी

मौके पर जलता नरेंद्र मोदी का पुतला।
मौके पर जलता नरेंद्र मोदी का पुतला।

बदायूं जिले के कस्बा सहसवान में एक स्थानीय नेता की हरकतों के चलते बवाल हो गया। मुस्लिम समुदाय के लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंक दिया एवं दिल्ली हाइवे पर जाम में फंसे वाहनों पर पथराव कर दिया, साथ ही सड़क किनारे लगे होर्डिंग्स वगैरह आग के हवाले कर दिए। बवाल अभी जारी है, जिसे रोकने को पुलिस व प्रशासन के बड़े अफसर निकल चुके हैं।

बताते हैं कि कस्बा सहसवान के मोहल्ला नबादा के निवासी अरुण सक्सेना ने वाट्सएप पर 28 जनवरी को फैजान नाम के युवक के वाट्सएप पर एक फोटो शेयर किया था, जिसमें धार्मिक पुस्तक पर जूता रखा हुआ था। बताते हैं कि फैजान ने अरुण को चेतावनी देकर छोड़ दिया, लेकिन यह फोटो फैजान ने अन्य कई लोगों को दिखाया, तो कई लोग आज अरुण के घर पहुंच गये। अरुण घर पर नहीं मिला, पर घर में मौजूद अरुण के भाई और पिता को लोगों ने पीटना शुरू कर दिया और पुलिस के हवाले कर दिया।

भीड़ को संबोधित करते हुए स्थानीय नेता।
भीड़ को संबोधित करते हुए स्थानीय नेता।

बताते हैं कि आरोपी के पिता और भाई को पुलिस को सौंपने के बाद लोग शांत हो गये थे, तभी विधायक बनने का ख्वाब देख रहा एक स्थानीय नेता आ गया और मौके पर मौजूद भीड़ को संबोधित करने लगा, इस पर मुस्लिम समाज का ही एक गुट भड़क गया और उसने बवाल शुरू कर दिया। सड़क किनारे लगे होर्डिंग्स तोड़ दिए। दिल्ली हाइवे जाम कर गाड़ियों पर पथराव शुरू दिया। आरोपी की गिरफ्तारी की मांग करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला भी फूंक दिया। सूचना मिलते ही अफसरों ने आसपास के कई थानों का पुलिस बल सहसवान की ओर दौड़ा दिया, लेकिन जब तक पुलिस पहुंचती, तब तक बड़ा बवाल हो चुका था। जाम अभी तक नहीं खुल सका है, जिससे सैकड़ों लोग फंसे हुए हैं। मुख्यालय से पुलिस व प्रशासन के कई बड़े अफसर मौके की ओर निकल चुके हैं।

मौके पर तैनात पुलिस।
मौके पर तैनात पुलिस।

बताते हैं कि स्थानीय नेता मौके पर नहीं आया होता, तो बवाल नहीं होता। पुलिस संबंधित धाराओं के अंतर्गत आरोपी के विरुद्ध कार्रवाई कर रही थी, जिससे भीड़ संतुष्ट थी। कस्बा सहसवान में चिंगारी में फूंक मार कर आग लगवाने का काम स्थानीय नेता ने ही किया है, जिससे अधिकाँश लोग उसके विरुद्ध कार्रवाई होने की उम्मीद कर रहे हैं।

Leave a Reply