नवजात की हत्या कर बस में माँ का यौन शोषण

घटना की जानकारी देते हुए पीड़ित महिला।
घटना की जानकारी देते हुए पीड़ित महिला।

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर भयावह वारदात सामने आई है। एक महिला को दरिंदों ने बस में दबोच लिया, जिसका दरिंदों ने न सिर्फ यौन शोषण किया, बल्कि नवजात शिशु की हत्या तक कर दी, जिससे उत्तर प्रदेश पुलिस ने एक बार फिर देश की नाक कटा दी है। घटना के संज्ञान में आने से अधिकांश लोग स्तब्ध और आक्रोशित हैं।

सनसनीखेज वारदात बरेली जिले में स्थित शीशगढ़ थाना क्षेत्र की है। बताते हैं कि रामपुर जिले के थाना खजुरिया क्षेत्र के गाँव सिसौना की रहने वाली एक तीस वर्षीय महिला की शीशगढ़ थाना क्षेत्र के एक गाँव में बहन ब्याही है, जहाँ शादी समारोह में सम्मलित होने के लिए पीड़िता आई हुई थी, इस बीच उसके दो सप्ताह के बच्चे का स्वास्थ्य खराब हो गया, तो वह सोमवार शाम को बस से खजुरिया शाही दवा लेने आई।

बताते हैं कि देर शाम वह बस द्वारा ही बहन के गाँव लौटने के लिए बस अड्डे पर पहुंची। बस के चालक-परिचालकों ने महिला को दबोच लिया और उसे भूखे भेड़िये की तरह दरिंदों ने नोंच डाला, साथ ही उसके नवजात बच्चे को पटक दिया, जिससे उसकी मौत हो गई।

सनसनीखेज वारदात का खुलासा तब हुआ, जब होश आने पर पीड़ित सुबह थाने पहुंची। घटना की जानकारी होते ही लखनऊ तक हड़कंप मच गया। पीड़ित मेडिकल परीक्षण के लिए और नवजात का शव पोस्टमार्टम के लिए मुख्यालय पहुंच गया है, लेकिन अभी तक क्षेत्रीय थानाध्यक्ष के विरुद्ध कोई कार्रवाई नहीं की गई है और न ही दरिन्दे पकड़े जा सके हैं।

Leave a Reply