ब्यॉय फ्रेंड को पेड़ से बांध कर गर्ल फ्रेंड का सामूहिक यौन शोषण

ब्यॉय फ्रेंड को पेड़ से बांध कर गर्ल फ्रेंड का सामूहिक यौन शोषण
ब्यॉय फ्रेंड को पेड़ से बांध कर गर्ल फ्रेंड का सामूहिक यौन शोषण

टीनएजर लवर्स परिजनों से छुप कर मस्ती करने के इरादे से जंगल की ओर निकल गये, वहां एक कृषि फार्म के मुनीम और उसके नौकरों ने उन्हें बंधक बना लिया। ब्यॉय फ्रेंड की पेड़ से बाँध कर बेरहमी से मार लगाई, साथ ही गर्ल फ्रेंड का बारी-बारी से लगभग दस लोगों ने यौन शोषण किया, उसके बाद कीमती सामान लूट कर उन्हें छोड़ दिया। पुलिस इस दुर्दांत घटना को दबा गई, जिससे पूरे इलाके में पुलिस की फजीहत हो रही है।

दुर्दांत घटना बदायूं जिले के सिविल लाइन थाना क्षेत्र में स्थित गाँव बहेड़ी के जंगल की है। बताते हैं कि शहर के टीन एजर लवर्स परिजनों से छुप कर मस्ती करने के इरादे से बहेड़ी के जंगल में पहुंच गये। बताते हैं कि शुक्रवार की दोपहर में एक पेड़ के नीचे बैठ कर दोनों बातें कर रहे थे, तभी वहां एक कृषि फार्म का मुनीम आ धमका, उसने दोनों को पकड़ लिया और बेवजह गालियाँ देने लगा। लवर्स ने विरोध किया, तो मुनीम ने अपने नौकर बुला लिए और फिर उसने दरिंदगी की हदें पार कर दीं।

ग्रामीणों का कहना है कि ब्यॉय फ्रेंड को पेड़ से बांध कर बेरहमी से पीटा गया, साथ ही ब्यॉय फ्रेंड के सामने ही मुनीम और उसके नौकरों ने बारी-बारी से गर्ल फ्रेंड का यौन शोषण किया। बताते हैं कि लड़की चीखती रही, लेकिन उसकी चीखें दरिंदों के दिल में मानवता की आग नहीं जला पाई, यह भी बताते हैं कि दरिंदों ने लवर्स का नकदी और कीमती सामान भी लूट लिया।

सूत्रों का कहना है कि दरिंदों से मुक्त होने के बाद शुक्रवार को ही ब्यॉय फ्रेंड सिविल लाइन थाने पहुंचा और उसने घटना की जानकारी दी, तो पुलिस ने परिजनों को बुलाने को कहा। लड़की के भी परिजनों को बुलाने को कहा। चूँकि दोनों परिजनों से छुप कर ही जंगल में गये थे, ऐसे में वे परिजनों को घटना के संबंध में स्वयं नहीं बता सकते थे, इसका लाभ पुलिस ने उठाया और दरिंदों को भी मिल गया। सूत्रों का कहना है कि पुलिस ने ब्यॉय फ्रेंड से तहरीर ले ली और उसे घर भेज दिया। सूत्रों का यह भी कहना है कि पुलिस ने मुनीम और नौकरों से मोटी रकम लेकर पूरी घटना को ही दबा दिया, जबकि घटना पूरे इलाके में चर्चा का विषय बनी हुई है, साथ ही पुलिस की बड़ी फजीहत हो रही है।

Leave a Reply