राजनाथ सिंह के साथ खड़े हुए नरेंद्र मोदी और अमित शाह

केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह
केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह

केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के पुत्र पंकज सिंह द्वारा रिश्वत लेने की कहानी सोशल मीडिया में चर्चा का विषय बनी हुई है, जिसको लेकर राजनाथ सिंह आहत ही नहीं हैं, बल्कि उन्होंने खुलकर चेतावनी दी है कि उनके परिवार के किसी भी सदस्य पर आरोप सिद्ध हो जाये, तो वे राजनीति को ठोकर मार देंगे। राजनाथ सिंह के साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने भी पंकज सिंह पर लग रहे आरोपों की अफवाह को चरित्र हनन का कुत्सित प्रयास बताया है, वहीं कई अन्य दलों के नेताओं ने भी राजनाथ सिंह के समर्थन में बयान दिए हैं।

उल्लेखनीय है कि पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया में यह चर्चा थी कि कुछ अधिकारियों के तबादलों और पोस्टिंग के लिए गृह मंत्री के पुत्र पंकज सिंह ने रिश्वत ली और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पंकज सिंह को बुलाकर फटकार लगाई, साथ ही रूपये वापस करने को कहा। यह अफवाह जब आम हो गई, तो शीर्ष तक पहुँच गई, जिस पर राजनाथ सिंह खुल कर सामने आ गये।

उन्होंने कहा कि पिछले 15-20 दिनों से मेरे और मेरे परिवार के खिलाफ अफवाहें चल रही थी। शुरू में मैंने सोचा कि अफवाहों के सिर-पैर नहीं होते और समय के साथ यह खत्म हो जाएंगी, लेकिन मैंने देखा कि निरंतर ये अफवाहें बढ़ती जा रही हैं, तो मैंने प्रधानमंत्री और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को इसकी जानकारी दी। बोले- प्रधानमंत्री ने भी इस अफवाह पर आश्चर्य जताया है।

प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा भी स्थिति स्पष्ट करते हुए कहा गया कि केंद्र सरकार के कुछ मंत्रियों के आचरण और केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के पुत्र के खिलाफ कदाचार के आरोपों के बारे में मीडिया के एक वर्ग में कई सप्ताह से रिपो‌र्ट्स आ रही हैं। ये रिपोर्ट पूरी तरह से झूठी और प्रायोजित हैं। ये किसी के चरित्रहनन का दुर्भावनापूर्ण प्रयास है तथा सरकार की छवि धूमिल करने वाली हैं। जो लोग इस तरह की अफवाह फैलाने के काम में लगे हैं, वे देश हित को हानि पहुंचा रहे हैं। ऐसी रिपोर्टो का दृढ़ता के खंडन किया जाता है।

इसी तरह भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि पार्टी के निवर्तमान राष्ट्रीय अध्यक्ष और केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के पुत्र के संदर्भ में अनर्गल प्रचार किए जा रहे हैं। उन्होंने अपने कर्तव्यों का उच्चतम प्रामाणिकता से वहन किया है। हाल के लोकसभा चुनाव मे भी उन्होंने मोदी जी के कंधे से कंधा मिलाकर ऐतिहासिक विजय में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। उनके पुत्र पंकज सिंह भी एक निष्ठावान कार्यकर्ता हैं। उनके खिलाफ लगाया गया आरोप आधारहीन, तथ्यहीन और पार्टी की छवि को धूमिल करने की दुर्भावना से प्रेरित है। मैं इसकी निंदा करता हूं और व्यक्तिगत रूप से आहत हूं।

उधर जद (यू) अध्यक्ष शरद यादव ने कहा कि वह राजनाथ सिंह को जानते हैं, उनकी ईमानदारी पर शक नहीं किया जा सकता।

Leave a Reply