जमीनी विवाद में संघर्ष, अधिवक्ता गंभीर, भ्रष्ट नेता के दबाव में थी पुलिस

गाँव टिटौली पहुंचे सीओ सहसवान घटना के संबंध जानकारी लेते हुए।

बदायूं जिले के उघैती थाना क्षेत्र में जमीन कब्जाने को लेकर आज दो पक्षों के बीच जमकर संघर्ष हुआ, जिससे कई लोग घायल हुए हैं एवं एक अधिवक्ता की हालत गंभीर बनी हुई है। एक भ्रष्ट भाजपा नेता के दबाव में थाना पुलिस पूरी तरह लापरवाह बनी रही, जिससे आज लाशों के ढेर भी लग सकते थे। पुलिस की भूमिका भी क्षेत्र में घोर निंदा की जा रही है।

घटना उघैती थाना क्षेत्र के गाँव टिटौली की है, यहाँ दो पक्षों में जमीन को लेकर लंबे समय से विवाद चला आ रहा है। एक पक्ष के कल्यान सिंह की हत्या भी हो चुकी है। बताते हैं कि भूमि संबंधी विवाद न्यायालय में विचाराधीन है, इसके बावजूद आज राम सिंह अधिवक्ता विजय सिंह यादव और अन्य कई साथियों को लेकर विवादित खेत पर पहुंच गया और दिनदहाड़े फसल को पलट दिया। अन्य खेत में दूसरे पक्ष के नरेश, शंभू, रितेश आदि काम कर रहे थे, जहां उन पर हमला कर दिया। मारपीट से हाहाकार की आवाज गाँव पहुंची, तो तमाम लोग लाठी-डंडों के साथ घटना स्थल की ओर दौड़ पड़े और फिर वे दूसरे पक्ष के लोगों को पीटने लगे।

घटना स्थल पर ही दोनों पक्षों के बीच जमकर संघर्ष हुआ, जिसमें कई लोग घायल हुए हैं एवं अधिवक्ता विजय सिंह यादव की हालत गंभीर है, जिसे प्राथमिक उपचार के बाद बरेली के लिए रेफर कर दिया गया है। बताते हैं कि घटना के समय ही एसओ को सूचना दी गई, लेकिन एसओ मौके पर नहीं आये। सूचना बड़े अफसरों को दी गई, तो सीओ सहसवान और सीओ बिल्सी आसपास के थानों का पुलिस बल लेकर घटना स्थल पर पहुंचे, जिसके बाद उघैती एसओ पहुंचे, तो भीड़ ने एसओ को जमकर लताड़ लगाई।

बताते हैं कि राम सिंह संभल जिले में प्रथम बैंक की शाखा में कैशियर है, वह चंदौसी रहता है, जहाँ से कई लड़कों को लेकर आया था। सूत्रों का कहना है कि चंदौसी निवासी एक भष्ट भाजपा नेता को रूपये देकर उघैती थाना पुलिस को घटना स्थल पर आने से रोका गया था, जिससे थाना पुलिस की क्षेत्र में घोर निंदा की जा रही है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply