गौतम संदेश के चेताने पर भी नहीं सुधरी पुलिस, कोर्ट परिसर से बंदी फरार

गौतम संदेश के चेताने पर भी नहीं सुधरी पुलिस, कोर्ट परिसर से बंदी फरार

बदायूं जिले की पुलिस की लापरवाही से आज एक बंदी फरार हो गया। प्रदेश सरकार फरार अपराधियों को गिरफ्तार करने का आदेश दे रही है, लेकिन पुलिस गिरफ्तार अपराधियों को भी नहीं संभाल पा रही है। न्यायालय परिसर में बरती जा रही लापरवाही की खबर गौतम संदेश ने प्रकाशित की थी, जिस पर अफसरों ने कार्रवाई की होती, तो आज पुलिस के माथे पर कलंक नहीं लगता।

वजीरगंज थाना पुलिस ने अपहरण और हत्या के प्रकरण में सरवर खां को 18 जनवरी 2017 को जेल भेजा था। सरवर आज न्यायालय में पेशी पर आया था। रोहित नाम के सिपाही को धक्का देकर सरवर न्यायालय परिसर से आसानी से भाग गया। रोहित की ओर से थाना सिविल लाइंस में मुकदमा दर्ज करा दिया गया है, इस घटना से पुलिस की बड़ी फजीहत हो रही है। न्यायालय परिसर में पुलिस द्वारा बरती जा रही लापरवाही का गौतम संदेश ने 2 मई को ही खुलासा कर दिया था।

गौतम संदेश ने लिखा था कि पेशी पर आने वाले बंदियों को सुविधा देने के नाम पर खुलेआम वसूली होती है। घर कॉल कराने के सौ रूपये, मौके पर परिजन आ जायें, तो उनसे बात कराने के सौ रूपये, परिजन सामान देकर जायें, तो उसके सौ रूपये, बंदी हथकड़ी के बिना घूमना चाहे, तो उसके रूपये, इसी तरह की हर सुविधा का चार्ज तय कर रखा है। समृद्ध बंदी हर सुविधा का लाभ लेते नजर आते हैं, जिससे लगता है कि वे बंदी नहीं, बल्कि वीवीआईपी हैं और सिपाही उनके अंगरक्षक, इस खबर पर अफसरों ने कार्रवाई की होती, तो आज पुलिस की फजीहत नहीं हो रही होती।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

भ्रष्टाचार के चलते जेल के अंदर और बाहर बंदियों को मिल रही है वीवीआईपी सुविधा

न्यायालय परिसर में बिना हथकड़ी के घूमते बंदियों को देखने के लिए वीडियो पर क्लिक करें

Leave a Reply