न्यूड तस्वीरों के प्रकरण में प्रिंस विलियम और केट मिडिलटन की जीत

ब्रिटेन के प्रिंस विलियम और शाही बहू केट मिडिलटन।

ब्रिटेन के प्रिंस विलियम और केट मिडिलटन दंपत्ति न्यूड तस्वीर प्रकाशित करने संबंधी मुकदमा जीत गये हैं। न्यायालय ने एक लाख यूरो पीड़ित दंपत्ति को देने का आदेश दिया है। प्रकरण लगभग 5 वर्ष पुराना है।

उल्लेखनीय है कि प्रिंस विलियम और उनकी पत्नी केट मिडिलटन सितंबर 2012 में फ्रांस में छुट्टियां बिता रहे थे। केट मिडिलटन बिकिनी पहने हुए थीं, तभी फोटोग्राफर सिरिल मोरेइयू और डोमिनिक जैकोविदेस ने उनकी तस्वीरें उतार लीं, जिन्हें क्लोजर मैगजीन के एडिटर लॉरेंज पिएयू और पब्लिशर एर्नेस्टो मॉरी ने प्रकाशित कर दिया। तस्वीरें प्रकाशित करने पर ब्रिटिश शाही दंपत्ति स्तब्ध रह गया। निजता का हनन मानते हुए दंपत्ति ने अपराधिक मुकदमा पंजीकृत कराया था।

शाही दंपत्ति ने तस्वीरों को बिना इजाजत लेने और उन्हें बताये बिना प्रकाशित करने का आरोप लगाया, इसके बदले उन्होंने 1.5 मिलियन यूरो की मांग की थी, इसी प्रकरण में शाही दंपत्ति को जीत मिली है। फ्रांस के न्यायालय ने 1.5 मिलियन यूरो की मांग को तो नहीं माना, लेकिनएक लाख यूरो देने का आदेश दिया है। एक लाख यूरो रूपये में गिने जायें, तो 76 लाख 41 हजार 396 हुए। फ्रेंच कोर्ट ने क्लोजर मैगजीन के एडिटर लॉरेंज पिएयू और पब्लिशर एर्नेस्टो मॉरी पर 45000-45000 यूरो का भी लगाया है। फोटोग्राफर सिरिल मोरेइयू और डोमिनिक जैकोविदेस पर 10-10 हजार यूरो का जुर्माना लगाया है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply