सांसद के साथ बनवारी ने कराया नामांकन, पवन नहीं लड़ेंगे

सांसद धर्मेन्द्र यादव के साथ नामांकन पत्र दाखिल करते बनवारी सिंह यादव।
सांसद धर्मेन्द्र यादव के साथ नामांकन पत्र दाखिल करते बनवारी सिंह यादव।

बदायूं लोकसभा क्षेत्र के लोकप्रिय और युवा सांसद धर्मेन्द्र यादव की मौजूदगी में समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष व दर्जा राज्यमंत्री बनवारी सिंह यादव ने आज समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी के रूप में विधान परिषद सदस्य के लिए नामांकन पत्र दाखिल किया। नामांकन के बाद बनवारी सिंह यादव के पुत्र विधायक आशीष यादव ने पवन गुप्ता को नामांकन न करने के लिए मना लिया, जिससे बनवारी सिंह यादव के निर्विरोध चुने जाने की संभावना प्रबल होती जा रही है।

बदायूं में गांधी नगर स्थित सपा कार्यालय पर उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित करते हुए सांसद धर्मेन्द्र यादव ने कहा कि बदायूं जिला सदैव समाजवादियों का गढ़ रहा है, तथा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नेता जी (मुलायम सिंह यादव) के साथ सपा जिलाध्यक्ष बनवारी सिंह यादव सहित सभी नेताओं व कार्यकर्ताओं ने जनपद में समाजवादी पार्टी को मजबूत किया है, उसी का परिणाम है कि एक बार फिर पार्टी ने बनवारी सिंह यादव पर भरोसा जताकर बदायूं जनपद से विधान परिषद सदस्य का प्रत्याशी बनाया है, हम सभी सपा कार्यकर्ताओं का यह कर्तव्य है कि पिछले चुनावों की भांति ही इस चुनाव में भी समाजवादी पार्टी को ऐतिहासिक जीत दिलायें।

इस अवसर पर सपा जिलाध्यक्ष व दर्जा राज्यमंत्री बनवारी सिंह यादव ने कहा कि पिछले कई दशकों से मैं और मेरा परिवार समाजवादी पार्टी की सेवा कर रहा है, तथा बदायूं जनपद की जनता से सदैव ही मुझे अपार समर्थन मिलता रहा है, मुझे उम्मीद ही नहीं, बल्कि पूरा विश्वास है कि समाजवादी पार्टी के सभी कार्यकर्ता व जनप्रतिनिधि इस चुनाव में मुझे व पार्टी को ऐतिहासिक जीत दिलाने का हरसम्भव प्रयास करेंगे। उन्होंने सभी नेताओं व कार्यकर्ताओं का आभार प्रकट किया। नामांकन के अवसर पर राज्यमंत्री ओमकार सिंह यादव, जिला पंचायत अध्यक्ष मधूचन्द्रा, शेखूपुर से विधायक आशीष यादव, बिसौली से विधायक आशुतोष मौर्य, दर्जा राज्यमंत्री व सदर विधायक आबिद रजा, गुन्नौर से विधायक रामखिलाड़ी सिंह यादव, पूर्व राज्यमंत्री विमलकृष्ण अग्रवाल, पूर्व विधायक प्रेमपाल सिंह यादव, जिला महासचिव सुरेशपाल सिंह चौहान, डी.सी.बी. चेयरमैन ब्रजेश यादव, डी.सी.डी.एफ. चेयरमैन हिमांशु यादव, गुलफाम सिंह यादव, बलवीर सिंह यादव, सुषमा मौर्य, अबरार अहमद, नूरउद्दीन, मो. उमर खां, इशरत अली खां, गौरव कुमार गोल्डी, शिम्मी, वीरेन्द्र कुमार, शकीलउद्दीन, सुखवीर सिंह, देवेन्द्र सिंह, कृष्णपाल सिंह गुरू, राहुल यादव, मधु सक्सेना, वीर सिंह यादव, प्रेम सिंह यादव, हीरालाल वर्मा, अशोक यादव, रामवीर सिंह, खालिद रजा, राकेश गुप्ता, आस मोहम्मद खां, संदीप सिंह, महेन्द्र प्रताप, गिरीश चन्द्र, सुमन चौहान, शांति देवी, नीलम यादव, राजू यादव, मोतशाम सिद्धीकी, मुख्त्यार कुरैशी, श्रीपाल सिंह, कुलदीप गुप्ता, सौरभ सक्सेना और प्रभात अग्रवाल सहित हजारों सपा कार्यकर्ता मौजूद रहे।

उधर बनवारी सिंह यादव के पुत्र विधायक आशीष यादव दर्जा राज्यमंत्री व सदर विधायक आबिद रजा के साथ जिला एसोशियेशन के हॉल में पहुंचे, जहाँ पवन गुप्ता से चुनाव न लड़ने का आह्वान किया एवं समर्थन माँगा, इस पर पवन गुप्ता ने कहा कि वे विकास के लिए चुनाव लड़ना चाहते थे, तो आबिद रजा ने परिसर में टिन-शैड बनवाने का वायदा कर दिया। उधर चर्चा यह भी है कि पवन गुप्ता के चुनाव लड़ने की घोषणा सोची-समझी नीति का हिस्सा था।

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

राजनीति में भूकंप, एमएलसी का चुनाव लड़ेंगे पवन गुप्ता

Leave a Reply