कुख्यात व दुर्दांत बदमाश है दारोगा सर्वेश यादव का हत्यारा

टीम के साथ दारोगा सर्वेश कुमार का हत्यारोपी रामतीरथ।
टीम के साथ दारोगा सर्वेश कुमार का हत्यारोपी रामतीरथ।

बदायूं जिले के थाना बिनावर क्षेत्र में सब-इंस्पेक्टर सर्वेश कुमार को गोली मारने वाले रामतीरथ सिंह को पुलिस ने आज पत्रकारों के समक्ष पेश किया। रामतीरथ कुख्यात व दुर्दांत बदमाश है, जिस पर कई मुकदमे दर्ज हैं, उसके पास से पुलिस ने लूटी गई पिस्टल के साथ अन्य हथियार व नकदी भी बरामद की है।

उल्लेखनीय है कि 22 जून की शाम को करीब 19:45 बजे थाना बिनावर क्षेत्रान्तर्गत ग्राम घटबहेटी में मोटरसाइकिल सवार बदामशों द्वारा उ. नि. सर्वेश कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी, तथा उनकी ग्लाक पिस्टल 9 एम.एम. लूट ली गई थी। उक्त घटना का मु.अ.सं.- 296/2016 धारा 302/307/394 भा.द.वि. के अंतर्गत पंजीकृत किया गया था। इस घटना के खुलासे के लिए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा पुलिस अधीक्षक (नगर) के निर्देशन में स्वाट/सर्विलांश टीम, एसओ उसहैत व एसटीएफ बरेली की टीम कोे लगाया गया था।

स्वाट/सर्विलांश टीम, एसओ उसहैत व एसटीएफ बरेली की टीम द्वारा रामतीरथ पुत्र रतीराम निवासी ग्राम नौगवां थाना जलालाबाद जिला शाहजहांपुर का लगातार पीछा किया जा रहा था, तथा इसके सम्भावित ठिकानों पर लगातार दबिश दी जा रही थी, परन्तु शातिर व दुर्दान्त किस्म का यह अपराधी लगातार अपने ठिकानों को बदल रहा था। मुखबिर की सूचना पर टीम ने रामतीरथ पुत्र रतीराम को मुठभेड़ में गिरफ्तार कर लिया और कड़ाई से पूछताछ करने पर उसने बताया कि उसका 9 बदमाशों का एक गिरोह है, जो कि प्रतिदिन लूटपाट के इरादे से निकलते हैं, तथा लूट छोटी हो, या बड़ी, हर घटना के समय लोगों को आतन्कित करने के लिये फायरिंग जरुर करते थे। हम लोग कुछ समय से दातागंज, बिनावर, कुंवरगांव, बिसौली, फरीदपुर औए बहेड़ी में लूटपाट कर रहे थे। पूछताछ करने पर यह भी बताया कि कुछ समय पहले हमारे द्वारा बिसौली में 3 मोटरसाइकिल, बिनावर में 4 दिनों में 4 मोटरसाइकिलें, कुंवरगांव में 1 मोटरसाइकिल के अतिरिक्त दातागंज में 3 लाख 50 हजार रुपये की लूट व बहेड़ी में अखा मोड़ पर एक सोनार से लूट की गयी। इसके अलावा हमारे गैंग के द्वारा बदायूं, बरेली, पीलीभीत, फर्रुखाबाद, फिरोजाबाद, इटावा, शाहजहांपुर, गाजियाबाद, नोएडा, दिल्ली व उत्तराखण्ड में भी कई लूट, डकैती की घटनाओं को अन्जाम दिया गया है। बरामद अपाचे के बारे में पूछने पर बताया कि उसने यह मोटरसाइकिल मण्डावली- दिल्ली से लूटी थी।

गिरफ्तार अभियुक्त बहुत ही शातिर व दुर्दान्त किस्म का अपराधी है, जिस पर लूटपाट के दर्जनों मुकदमें दर्ज हैं, जो गिरोह के साथ 1 वर्ष से लूट की घटनाओं को अंजाम दे रहा था, तथा इस गैंग का आम जनमानस के बीच भय कायम होता जा रहा था, तभी इनके विरुद्ध बल्लिया, कैण्ट, दातागंज, भमोरा, फरीदपुर व बिनावर क्षेत्र में पीड़ित व्यक्ति किसी भी कार्यवाही करने का साहस ही नहीं करे पाते थे। गिरफ्तार किये गये रामतीरथ से एक पिस्टल, लूटे गये 42 हजार 500 रूपये, तीन कारतूस जिन्दा, एक नाजायज तमन्चा 315 बोर, तीन खोखा कारतूस व एक मोटरसाइकिल बरामद की गई है। रामतीरथ को पकड़ने में एसटीएफ के निरीक्षक विजय राना, एसओ उसहैत कमलेश सिंह, स्वाट टीम प्रभारी सन्दीप तोमर, प्रवीन्द्र सिंह, राशिद अली, सौरभ शुक्ला, लोकेन्द्र कुमार, प्रमोद, महीपाल सिंह, सद्दाम, यशवीर सिंह का प्रमुख योगदान रहा है। टीम को एसएसपी ने पुरस्कृत करने की घोषणा की है।

संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

शाहजहाँपुर के रामतीरथ ने मारी थी सब-इंस्पेक्टर को गोली

सब-इंस्पेक्टर के घायल हत्यारे की मौत, दबाव से पुलिस त्रस्त

मुठभेड़ में घायल सब-इंस्पेक्टर की मौत, घायल बदमाश पकड़ा

Leave a Reply