शक्तिशाली उद्योगपति कहे जाने वाले मुकेश अंबानी की कंपनी पर सेबी का कहर

उद्योगपति मुकेश अंबानी

उद्योगपति मुकेश अंबानी को लेकर ऐसी धारणा बनती जा रही है कि वह देश के सर्वाधिक शक्तिशाली व्यक्तियों में से एक हैं, उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नजदीकी साबित करने का प्रयास किया जाता रहा है, ऐसे मुकेश अंबानी की कंपनी को बड़ा झटका लगा है। सेबी ने उनकी कंपनी पर ट्रेडिंग करने को लेकर न सिर्फ प्रतिबंध लगा दिया है, बल्कि मोटा आर्थिक दंड भी लगाया है, जिससे हर कोई स्तब्ध नजर आ रहा है।

जी हाँ, स्टॉक मार्केट रेग्युलेटर सिक्युरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (सेबी) ने रिलायंस इंडस्ट्रीज स्टॉक मार्केट में फ्यूचर एंड ऑप्शन (एफएंडओ) में ट्रेडिंग करने पर एक साल का प्रतिबंध लगा दिया है। सेबी ने कंपनी पर 447 करोड़ रुपये का मोटा आर्थिक दंड भी लगाया है, जिसे 45 दिन के अंदर भरना होगा, साथ ही कंपनी को ब्याज भी देना होगा। प्रकरण 2008 से लंबित बताया जा रहा है। रिलायंस पेट्रोलियम का रिलायंस इंडस्ट्रीज में विलय हुआ था, उसी समय सेबी ने आरआईएल पर नियमों के उल्लंघन करने का आरोप लगाया था, जिसे मुकेश अंबानी ने दिसंबर 2010 में सैट में चुनौती दी थी।

बताया जाता है कि रिलायंस पेट्रोलियम का विलय करने से पहले आरआईएल ने 4.1 प्रतिशत शेयर को 4023 करोड़ में बेच दिया था। आरोप लगा था कि आरआईएल ने मार्केट में शेयर गिरने से बचाने को ऐसा किया था। पहले कंपनी ने रिलायंस पेट्रोलियम के शेयरों को फ्यूचर मार्केट में बेचा और फिर स्पॉट मार्केट में बेचा, जिससे नुकसान की भरपाई की गई थी। सेबी ने 13 अन्य कंपनियों को भी नोटिस जारी किया है, जिससे उद्योग जगत में हड़कंप मच गया है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

Leave a Reply