मदर ऐथीना के रैनवो को देखने वालों के मुंह से निकली वाह-वाह

वार्षिकोत्सव में हुए हरियाणवी नृत्य में भाग लेते बच्चे।
वार्षिकोत्सव में हुए हरियाणवी नृत्य में भाग लेते बच्चे।
बदायूं स्थित मदर ऐथीना स्कूल में आज रैनवो नाम से वार्षिकोत्सव का आयोजन किया गया, जिसमें विद्यालय के छात्र-छात्राओं ने इतनी तरह के रंग उड़ाए कि हर कोई वाह-वाह कर उठा। रंगारंग कार्यक्रमों की प्रस्तुति से हर प्रतिभागी ने उपस्थित लोगों को भाव-विभोर कर दिया। वार्षिकोत्सव के समारोह का शुभारंभ जिलाधिकरी पवन कुमार की अध्यक्षता में हुआ, जिसके मुख्य अतिथि ओलंपिक हॉकी प्लेयर सैयद अली रहे, साथ ही एसएसपी महेन्द्र सिंह यादव एवं सीडीओ अच्छे लाल यादव विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहे।
समारोह का शुभारंभ मुख्य अतिथि ने माँ सरस्वती के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित कर किया, जिसके बाद मंगलाचरण के रूप में विद्यालय की छात्राओं ने अत्यंत भाव-पूर्ण मुद्रा में माँ सरस्वती की वंदना प्रस्तुत कर वातावरण को भक्तिमय बना दिया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे जिलाधिकारी पवन कुमार ने मदर ऐथीना स्कूल द्वारा बच्चों के सर्वांगीण विकास के प्रयासों की सराहना की, उन्होंने कुशल नेतृत्व और शिक्षा के श्रेष्ठ अवसर प्रदान करने के लिये विद्यालय प्रबंधन को धन्यवाद दिया। सांस्कृतिक प्रस्तुतियों की प्रशंसा करते हुए उन्होंने विद्यालय के उज्ज्वल भविष्य की कामना की। उन्होंने कहा कि मदर ऐथीना स्कूल भविष्य में भी सफलता के नये आयाम स्थापित करेगा।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सैयद अली ने कार्यक्रम की प्रशंसा करते हुए अपने संदेश में कहा कि मदर ऐथीना स्कूल के विद्यार्थियों की सांस्कृतिक प्रस्तुतियों ने पूरे भारत को ही मंच पर प्रतिबिंबत कर दिया, उन्होंने कहा कि बच्चे देश का भविष्य है और मुझे खुशी है कि मदर ऐथीना स्कूल राष्ट्र निर्माण में अपना महत्त्वपूर्ण योगदान दे रहा है। उन्होंने मदर ऐथीना परिवार के सार्थक प्रयासों की सराहना की। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि एसएसपी महेन्द्र सिंह यादव ने विद्यार्थियों की सांस्कृतिक प्रस्तुतियों की सराहना करते हुये कहा कि बच्चों के विकास में उनके माता-पिता की अहम भूमिका होती है, माँ बच्चे की पहली पाठशाला है, उन्होंने कहा कि माता-पिता और शिक्षक मिलकर बच्चों का मार्गदर्शन करें और उनमें अच्छे संस्कार डालने का प्रयास करें, क्योंकि संस्कारों के बिना शिक्षा अधूरी है। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि सी़डी़ओ़ अच्छे लाल यादव ने प्राचीन दार्शनिक सिद्धांतों की आधुनिक विज्ञान के आधार पर व्याख्या करते हुये कहा कि बच्चे माता-पिता का प्रतिबिंब होते हैं। हमें उनके निहित गुणों और रूचियों के आधार पर उन्हें आगे बढ़ने का अवसर देना चाहिये।
वार्षिकोत्सव में रंगारंग कार्यक्रमों की श्रृंखला में सर्वाधिक रोमांचक पल रहा ‘मीनार निर्माण’, यह ऐसा कार्यक्रम था, जिसमें मदर ऐथीना के विद्यार्थियों ने अपने असाधारण कौशल का परिचय दिया और दर्शकों को संमोहित कर लिया। पूरा प्रांगण तालियों से गूँजने लगा। प्ले ग्रुप के नन्हें-मुन्ने विद्यार्थियों ने अपनी आकर्षक मुद्राओं से अपने मन की कोमल भावनाओं को व्यक्त किया, तो ‘जंगल बुक’ कार्यक्रम लेकर आए के.जी. वर्ग के विद्यार्थियों ने दर्शकों के सामने उनकी बचपन की स्मृतियों को साकार कर दिया। ‘लव दाई नेचर’ कार्यक्रम को खूब सराहना मिली, इस कार्यक्रम में कक्षा- 3 के बच्चों ने मार्मिक ढंग से पर्यावरण की रक्षा के लिये हरे-भरे वृक्षों को बचाने की अपील की। लोकगीत भारतीयों के कंठ में स्वभावत: गूँजते हैं। वार्षिकोत्सव में विभिन्न प्रांतो की लोक संस्कृति पर आधारित कार्यक्रम आकर्षण के केन्द्र रहे, जिनमें ‘‘बंगाल की दुर्गा पूजा’’ और ‘‘गुजरात के डांडिया’’ ने तो ऐसा समां बाँधा कि दर्शक झूम उठे, इसी तरह राजस्थान के कठपुतली नृत्य’, ‘शान-ए-पंजाब’, ‘हरियाणवी’ और ‘थ्रिलिंग वेव्स ऑफ गोवा’ जैसे कार्यक्रमों ने इन प्रातों की सभ्यता और संस्कृति से परिचय करा दिया, जिसे देख कर उपस्थित लोग मंत्रमुग्ध हो गये। ‘आर्ट ऑफ लिविंग’ में विद्यार्थियों ने ‘जल नेती’ सहित योग की विशिष्ट क्रियाओं का प्रदर्शन किया, तो ‘मार्शल आर्ट’ में पारंगत विद्यार्थियों ने अपने हैरतंगेज करतबों से दर्शको को स्तब्ध कर दिया।
मंच पर प्राचीनता और नवीनता का अदभुत समन्वय देखने को मिला। ‘हिन्दी कवि सम्मेलन’ प्रस्तुत करने वाले विद्यार्थियों ने हास्य व्यंग्य शैली में समाज की विकृतियों को रेखांकित किया। ‘बॉलीवुड पर आधारित ‘‘स्टैपअप’ कार्यक्रम ने खूब धूम मचाई और युवा दर्शकों का उन्हें जोरदार समर्थन मिला। हमारी गंगा-जमुनी संस्कृति वाला शहर बदायूँ सूफी-संतो के लिये प्रसिद्ध है। कार्यक्रम में सूफियाना कलाम ने भी खूब रंग जमाया और दर्शकों की भरपूर वाह-वाही लूटी। कार्यक्रम के अंत में ‘लकी ड्रा’ का आयोजन किया गया और विजेता अभिभावकों को विद्यालय की ओर से उपहार दिये गये।
वार्षिकोत्सव में सत्र 2015-16 की हाईस्कूल एवं इण्टरमीडिएट की कक्षाओं में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थियों को सम्मानित किया गया। इण्टरमीडिएट में यश अग्रवाल (कामर्स ग्रुप) और ऐश्वर्या गुप्ता (वायो ग्रुप) को जनपद में सर्वाधिक अंक प्राप्त करने के लिये सम्मानित किया गया, इसके साथ ही दीपेश यादव, सौरभ वार्ष्णेय, वैभव तोमर और वंशिका सपरा को अपने श्रेष्ठ प्रदर्शन के लिये सम्मान मिला। हाईस्कूल में 10 सीजीपीए के साथ परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले 22 विद्यार्थियों को सम्मानित किया गया। विद्यालय की लोकप्रिय निदेशिका चयनिका सारस्वत ने ‘स्कूल रिपोर्ट’ में विद्यालय की कार्यशैली की विवेचना करते हुये विद्यालय की उपलब्धियों पर प्रकाश डाला तथा भविष्य की कार्य योजनाओं को प्रस्तुत किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में विद्यालय की निदेशिका चयनिका सारस्वत के साथ प्रधानाचार्या शीबा खान, समन्वयक पवित्रा यादव, वार्षिकोत्सव प्रभारी ऑस्मंड एरिक डेविड, कविता रस्तोगी और विभिन्न कार्यक्रमों के प्रभारियों ने अपना महत्त्वपूर्ण योगदान दिया। कार्यक्रम का संचालन अनुप्रिया शर्मा, यशिका नारंग, कृति वर्मा, अंशिका अग्रवाल, साम्या गौतम, यश राठौर और मयंक कुमार ने किया। कार्यक्रम में जिला विद्यालय निरीक्षक राकेश कुमार तथा नगर के तमाम गणमान्य नागरिकों की गरमामयी उपस्थिति रही। विद्यालय की समन्वयक पवित्रा यादव ने आमंत्रित अतिथियों, अभिभावकों और विविध कार्यक्रमों के प्रभारियों के प्रति अपना आभार व्यक्त किया और राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।

Leave a Reply