चर्चित सोनू-मोनू पर कोर्ट परिसर में जानलेवा हमला, बचे

मारे गये हमलावर के आसपास जुटी भीड़ और पुलिस।
मारे गये हमलावर के आसपास जुटी भीड़ और पुलिस।

सुल्तानपुर लोकसभा क्षेत्र से भाजपा सांसद वरुण गांधी के प्रतिनिधि पूर्व विधायक चंद्रभद्र सिंह उर्फ सोनू सिंह और उनके भाई पूर्व ब्लाक प्रमुख यशभद्र सिंह उर्फ मोनू सिंह पर बुधवार को फैजाबाद जिला न्यायालय परिसर में सशस्त्र लोगों ने बम से हमला कर दिया। दोनों भाई बच गये हैं, साथ ही जवाबी कार्रवाई में दो हमलावार मार दिये गये हैं। मोनू सिंह के पैर में छर्रे लगे हैं एवं कई अन्य लोग भी घायल हुये हैं, वहीं आक्रोशित वकीलों ने पुलिस को बुरी तरह पीट दिया, जिससे हड़कंप और अफरा-तफरी का माहौल देर तक बना रहा। मोनू सिंह ने हमले के लिए संत ज्ञानेश्वर के शिष्यों पर आरोप लगाया है।

हमले में बाल-बाल बचे चंद्रभद्र सिंह पर संत ज्ञानेश्वर की ह्त्या करने के साथ अन्य तमाम आरोप हैं। वर्ष 2005 में इलाहाबाद के हंडिया के पास अज्ञात लोगों ने संत ज्ञानेश्वर पर हमला किया था, जिसमें चार लोगों की मौत हो गई थी। कूड़ेभार स्थित एक आश्रम को लेकर दोनों के बीच विवाद चल रहा था।

सोनू सुल्तानपुर से विधायक रह चुके हैं, वहीं मोनू पूर्व ब्लॉक प्रमुख है। संत ज्ञानेश्वर हत्याकांड में दोनों भाईयों को फैजाबाद पेशी के लिए लाया गया था। घटना को लेकर उच्च स्तर पर जांच की जा रही है।

Leave a Reply