सरकार की किताबों में तुगलक के समय भी था पाकिस्तान

मोहम्मद बिन तुगलक के साम्राज्य के समय मानचित्र में दर्शाया जा रहा किस्तान।
मोहम्मद बिन तुगलक के साम्राज्य के समय मानचित्र में दर्शाया जा रहा पाकिस्तान।

सरकारी विद्यालयों में दी जा रही शिक्षा का हाल इस हद तक बेकार है कि विद्यार्थियों की तो बात ही छोड़िये, अध्यापक तक बेखबर हैं। अगर, किसी किताब द्वारा गलत शिक्षा दी जा रही है, तो सुधारने की जगह अध्यापक विद्यार्थियों को गलत शिक्षा ही देते नजर आ रहे हैं, ऐसी शिक्षा लेने वाले विद्यार्थियों का भविष्य उज्ज्वल नहीं कहा जा सकता।

जी हाँ, एनसीआरटी की किताबों में बड़ी गलती प्रकाश में आई है। कक्षा- छः, सात और आठ में इतिहास विषय की किताब में मानचित्र सहित पढ़ाया जा रहा है कि मध्य काल और प्राचीन काल में पाकिस्तान था। 1947 को अस्तित्व में आये पाकिस्तान को मोहम्मद बिन तुगलक के साम्राज्य के समय के मानचित्र में स्पष्ट दर्शाया गया है। सवाल सिर्फ अध्यापकों पर ही नहीं उठ रहा है। सवाल एनसीआरटी के साथ सरकार पर भी उठ रहा है, क्योंकि पाकिस्तान के अस्तित्व को लेकर अशिक्षित भारतीय भी जानते हैं, ऐसे में मोटा वेतन, भत्ता वगैरह लेने वाले इस तरह की गलती कैसे कर सकते हैं? अब विशेष ध्यान देने वाली बात यह है कि सरकार दोषियों के विरुद्ध क्या कार्रवाई करेगी?

Leave a Reply

Your email address will not be published.