पीलीभीत तक फैली हैं कुख्यात मांस व्यापारी मोईन की जड़ें

पीलीभीत तक फैली हैं कुख्यात मांस व्यापारी मोईन की जड़ें
पीलीभीत तक फैली हैं कुख्यात मांस व्यापारी मोईन की जड़ें

कुख्यात मांस निर्यातक मोईन कुरैशी के तार पीलीभीत जिले के कस्बा पूरनपुर से भी जुड़े हैं। मोईन का दायाँ हाथ कहा जाने वाला शख्स कस्बा पूरनपुर का है, जो पिछले दो वर्षों में करोड़ों का स्वामी बन गया है, इसके बावजूद उस पर स्थानीय पुलिस-प्रशासन के साथ खुफिया विभाग की भी नजर नहीं है, जबकि यह शख्स पूरे इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ है।

उल्लेखनीय है कि कुख्यात मांस निर्यातक मोईन कुरैशी कर चोरी और धन शोधन का आरोपी है, इसके विरुद्ध ईडी द्वारा 15 अक्टूबर को लुक आउट सर्कुलर जारी किया गया था, तभी मोईन कुरैशी भारत से भाग गया था। कुरैशी ने दिल्ली उच्च न्यायालय में राहत के लिए याचिका दायर की थी, लेकिन दिल्ली उच्च न्यायालय ने उसे ईडी के समक्ष उपस्थित होकर जाँच में सहयोग करने का आदेश दिया था, इसलिए कुरैशी को भारत लौट कर आना पड़ा, वरना वह कानूनी शिकंजे में और गहरे तक फंसता चला जाता।

मोईन कुरैशी चर्चा में आया, तो पीलीभीत जिले के कस्बा पूरनपुर में रहने वाला इसका दायाँ हाथ कहा जाने वाला शख्स भी चर्चा में आ गया। बताते हैं कि लाइन पार मोहल्ला साहूकारा में रहने वाले इस शख्स की आर्थिक स्थित बेहद खराब थी, लेकिन दो वर्ष पहले किसी तरह यह मोईन कुरैशी के संपर्क में आ गया, तो मोईन ने इसे अपने धंधों में संलिप्त कर लिया, जिससे कुछ समय बाद ही यह शख्स भी करोड़ों में खेलने लगा। बताते हैं कि जिस व्यक्ति की हैसियत दस हजार रूपये की नहीं थी, उसने एक करोड़ से भी ज्यादा कीमत की कोठी बना दी। कोठी के बनते ही यह व्यक्ति न सिर्फ पूरनपुर के लोगों के बीच, बल्कि समूचे इलाके में चर्चा का विषय बन गया, लेकिन स्थानीय पुलिस-प्रशासन और खुफिया विभाग इसकी गतिविधियों से पूरी तरह बेखबर हैं। माना जा रहा है कि केन्द्रीय जांच एजेंसियों की जाँच आगे बढ़ने पर यह शख्स भी कार्रवाई के दायरे में आ जायेगा, ऐसी उम्मीद इस व्यक्ति को भी है, जिससे पिछले कुछ दिनों से इसकी कोठी पर हो रही गतिविधियाँ संदिग्ध नजर आ रही हैं।

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

भारत और स्विट्जरलैंड के बीच समझौता, कुरैशी भारत लौटा

Leave a Reply

Your email address will not be published.