मुख्यमंत्री की चेतावनी के बाद भी नहीं हुआ सुधार, सर्राफ को मारी गोली

मुख्यमंत्री की चेतावनी के बाद भी नहीं हुआ सुधार, सर्राफ को मारी गोली

बदायूं जिले की कानून अव्यवस्था को लेकर रविवार को मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने रविवार को बरेली में समीक्षा के दौरान कड़ी नाराजगी व्यक्त की थी, इसके बावजूद जिले की पुलिस पर कोई असर नहीं हुआ। यौन उत्पीड़न के बाद हत्या की दुस्साहसिक वारदात का खुलासा न करने पर एसओ राजवीर यादव के विरुद्ध दंडात्मक कार्रवाई नहीं की गई, जिससे राजवीर यादव और भी लापरवाही बरतने लगे हैं, जिसका दुष्परिणाम यह हुआ कि आज एक सर्राफ को गोली मार दी गई। घटना को लेकर क्षेत्र में दहशत का माहौल है।

घटना इस्लामनगर थाना क्षेत्र की हैबताते हैं कि इस्लामनगर के मोहल्ला होली चौक निवासी शिवनंदन रस्तोगी अपने नौकर इरफान के साथ गाँव सैफुल्लागंज में दावत खाने गये थेलौटते समय उन्हें मौसमपुर के पास बदमाशों ने रोकने का प्रयास किया और जब उन्होंने बाइक नहीं रोकी, तो उन्हें गोली मार दी गईकिसी तरह इस्लामनगर पहुंचे घायल शिवनंदन को प्राथमिक उपचार के बाद संभल जिले के कस्बा चंदौसी के लिए रेफर कर दिया गया, जहाँ एक निजी अस्पताल में उनका उपचार चल रहा हैपुलिस बदमाशों को अभी तक नहीं खोज पाई हैघटना को लेकर क्षेत्र में दहशत का माहौल है

यहाँ यह भी बता दें कि थाना इस्लामनगर क्षेत्र के गाँव अल्लैहपुर समसपुर में 40 वर्षीय एक महिला पशुशाला में सो रही थी, जिसकी 12 मई की सुबह लाश मिली थी एसओ ने त्वरित कार्रवाई करने की जगह घटना को दबाने के प्रयास किया था एसएसपी घटना स्थल पर गये थे, तो उन्होंने मृतका की पुत्री की तहरीर पर अज्ञात लोगों के विरूद्ध मुकदमा अपराध संख्या 278/17 धारा 302, 376 आईपीसी पंजीकृत कराया था एवं प्रभारी निरीक्षक राजवीर यादव को दो दिन के अंदर घटना का खुलासा करने की चेतावनी दी थी, लेकिन एसओ घटना का खुलासा करने में नाकाम साबित हुए हैं, पर उन्हें अभी तक हटाया नहीं गया है, जिससे एसओ राजवीर यादव न सिर्फ लापरवाह हो गये हैं, बल्कि जमकर मनमानी भी करते नजर आ रहे हैं।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

Leave a Reply