बदायूं के हीरो सांसद धर्मेन्द्र यादव की जिले में हुई जय-जयकार

लाभार्थियों व जनसमूह को संबोधित करते सांसद धर्मेन्द्र यादव।
लाभार्थियों व जनसमूह को संबोधित करते सांसद धर्मेन्द्र यादव।
उत्तर प्रदेश सरकार की योजनायें, नीतियां एवं कार्यक्रम किसी जाति विशेष को ध्यान में रखते हुए नहीं, बल्कि समाज के प्रत्येक वर्ग के लिए संचालित की जाती हैं और प्रयास किया जाता है कि गरीब, बेसहारा तथा शोषितों को योजनाओं का शत-प्रतिशत लाभ मिले। जनपद विकास की दृष्टि से पिछड़े क्षेत्रों में शुमार होता था, लेकिन अब बदायूं जिले के विकास के चर्चे हैं और कोई कमी शेष नहीं छोड़ी जायेगी। पिछड़ापन दूर होने से सम्पूर्ण जिले की तस्वीर बदल जाएगी।
लैपटॉप पाने वाली छात्राओं के साथ सांसद धर्मेन्द्र यादव।
लैपटॉप पाने वाली छात्राओं के साथ सांसद धर्मेन्द्र यादव।
उक्त उद्गार बदायूं लोकसभा क्षेत्र के लोकप्रिय सांसद धर्मेन्द्र यादव ने मंगलवार को इस्लामियां इंटर कॉलेज परिसर मे आयोजित विकलांग उपकरण, लैपटॉप, साईकिल एवं मछुआ समुदाय के लाभार्थियों को चेक वितरण समारोह में व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि जुलाई- 2016 से राजकीय मेडीकल कॉलेज में सौ सीटों पर कक्षायें शुरू हो जायेंगी और जनपद तथा आस-पास के क्षेत्रीय छात्र-छात्राओं को मेडीकल कॉलेज के लिए इधर-उधर नहीं भटकना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि यदि केन्द्रीय क्राइम ब्यूरो की रिपोर्ट का अध्यन करें, तो प्रदेश की स्थिति अन्य प्रदेशों के सापेक्ष सबसे बेहतर है। उन्होंने जिले में 71 हजार समाजवादी पेंशन, 40 हजार से अधिक किसानों का कर्जा माफ करने तथा लैपटॉप, बेरोजगारी भत्ता, कन्या विद्या धन वितरण का जिक्र करते हुए कहा कि सरकार ने प्रत्येक वर्ग के लिए योजनायें चलाकर जिले में दो लाख से अधिक विभिन्न वर्गों के लोगों को लाभ दिया है। कार्यक्रम के अंत में सांसद धर्मेन्द्र यादव ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने जो भी योजनायें चलाई थीं, वे सब चल रही हैं, लेकिन केंद्र सरकार ने जनता को धोखा दिया है।
विकलांगजनों से बात करते सांसद धर्मेन्द्र यादव।
विकलांगजनों से बात करते सांसद धर्मेन्द्र यादव।
अध्यक्ष वक्फ विकास निगम (दर्जा राज्यमंत्री) व शहर विधायक आबिद रज़ा ने विकलांगजनों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि यदि कोई व्यक्ति शारीरिक रूप से अक्षम है, तो उसे मानसिक रूप से कमजोर नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि विकलांगजनों की सेवा करना अति पुण्य का कार्य है, इनकी दुआओं से सांसद को लम्बी आयु तथा तरक्की ज़रूर हासिल होगी। उन्होंने कहा कि इस से पूर्व एक बडी संख्या में सभी छात्र तथा छात्राओं को लैपटॉप वितरित किए गए थे और इस बार भी सरकार द्वारा जिले के मेधावी विद्यार्थियों को लैपटॉप वितरित किए जा रहे हैं। शिविर की अध्यक्षता कर रहे डाक्टर यासीन अली उस्मानी ने कहा कि गरीबों, कमजोरों की मदद करने से बड़ा कोई दूसरा नेक कार्य नहीं होता है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा कमजा़ेरों तथा मज़बूरों के लिए चलाई जा रही योजनाएं उनके लिए मील के पत्थर का कार्य कर रहीं हैं, क्योंकि तमाम ऐसी अति गरीब महिलाएं हैं, जो समाजवादी पेंशन पर निर्भर रहकर अपना तथा अपने बच्चों का पालन पोषण कर रही हैं। सहसवान के विधायक ओमकार सिंह यादव एवं शेखूपुर के विधायक आशीष यादव ने कम समय में उचित व्यवस्था कर कैम्प आयोजित करने पर जिला प्रशासन को बधाई देते हुए कहा कि जनपद में सड़क, पुल, चिकित्सार्, शिक्षा सहित अन्य सभी क्षेत्रों में विकास कार्यों से जिले की तस्वीर बदली है और अब जनपद का नाम पिछड़े क्षेत्रों में शामिल नहीं होगा, लेकिन अभी भी बहुत कार्य करने की आवश्यकता हैं। कार्यक्रम में बिसौली के विधायक आशुतोष मौर्य, पूर्व विधायक विमल कृष्ण अग्रवाल, हरप्रसाद सिंह पटेल, राजेन्द्र पाठक, अवधेश यादव, बलवीर सिंह यादव, कुन्नू बाबू व प्रेमपाल सिंह यादव उपस्थित रहे।
जिलाधिकारी शम्भू नाथ ने सभी अतिथियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि जनपद में सूखा राहत योजना के तहत चार लाख किसानों को सौ करोड़ से अधिक की आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई जाने के साथ ही कृषि निवेश योजना अन्तर्गत भी जनपद के किसानों को लाभान्वित किया गया है। मुख्य विकास अधिकारी प्रताप सिंह भदौरिया ने अन्त में सभी का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर एसएसपी सौमित्र यादव सहित अन्य सभी अधिकारीगण मौजूद रहे।
मछुआ समुदाय के लाभार्थियों के साथ सांसद धर्मेन्द्र यादव।
मछुआ समुदाय के लाभार्थियों के साथ सांसद धर्मेन्द्र यादव।

विभिन्न विभागों के कुल 1941 लाभार्थी लाभान्वित 

बदायूं में मंगलवार को इस्लामियां इन्टर कॉलेज स्थित प्रांगण में आयोजित शिविर में विभिन्न विभागों के कुल 1941 लाभार्थियों को लैपटॉप, विकलांगजनों को उपकरण, श्रमिकों को साईकिल वितरण करने के साथ ही सूखा राहत योजना के तहत मछुआ समुदाय के लाभार्थियों को सांसद धर्मेन्द्र यादव ने आर्थिक सहायता योजना के चेक वितरित किए।
एडिप योजना के अन्तर्गत जिला प्रशासन, एलिम्को एवं नव जाग्रति विकास समिति के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित शिविर में 74 लाख 45 हजार लागत की 1050 ट्राईसाईकिल, 40 व्हील चेयर, 430 जोड़ी वैसाखी, 21 विलाइंड छड़ी, चार एमआर किट (मानसिक रूप से अक्षम लोगों के लिए) तथा 82 श्रवण यन्त्र कुल 1627 विकलांगता उपकरण वितरण किए जाने के साथ ही 184 छात्र-छात्राओं को लैपटॉप और साईकिल वितरण योजना के तहत 100 श्रमिकों को साईकिल बांटे जाने के अलावा सूखा राहत योजना के तहत 30 मछुआ समुदाय के लाभार्थियों  को एक लाख 78 हजार रूपए के चेक वितरित किए। बता दें कि जनपद में सूखा राहत योजना के अन्तर्गत 110 मछुआ समुदाय के लाभार्थियों को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने हेतु मत्स्य विकास अभिकरण को पांच लाख 74 हजार 254 रूपए की धनराशि सरकार द्वारा प्राप्त हुई है, जिसमें 30 लाभर्थियों को शिविर के माध्यम से सांसद द्वारा चेक वितरित किए गए और शेष लाभार्थियों को जिला स्तरीय सम्बंधित अधिकारी द्वारा बांटी जा चुकी है।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) अशोक कुमार श्रीवास्तव, अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) राजेन्द्र प्रसाद यादव, नगर मजिस्ट्रेट अजय कुमार श्रीवास्तव, एएसपी (ग्रामीण) बालेंदु भूषण सिंह व एएसपी (सिटी) अनिल यादव सहित अन्य सभी प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारी मौजूद रहे।
संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

Leave a Reply