भूकंप पीड़ितों की मदद के लिए विभोर ने तोड़ दी गुल्लक

विभोर पांडेय
विभोर पांडेय

भूकंप के झटकों से समूचा नेपाल करा रहा है और उसके साथ भारत भी बेहद दुखी है। दुःख की इस घड़ी में लोग बढ़-चढ़ कर नेपाल की मदद कर रहे हैं। बड़े और बुजर्गों की तो बात ही छोड़िये, जो बच्चे अपनी गुल्लक किसी को छूने तक नहीं देते, वे बच्चे अपना जोड़ा हुआ एक-एक रुपया नेपाल की मदद के लिए खुशी-खुशी दे रहे हैं, ऐसा ही एक बच्चा है विभोर पांडेय, जिसने अपनी गुल्लक के पैसे प्रधानमंत्री राहत कोष के लिए भेज दिए हैं।

बदायूं की आवास विकास कालौनी निवासी गोपाल पांडेय का सात वर्षीय पुत्र विभोर पांडेय कक्षा तीन का छात्र है। विभोर ने अपनी गुल्लक फोड़ कर एक हजार रुपया का ड्राफ्ट प्रधानमंत्री राहत कोष के लिए भेज दिया है, उसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम एक पत्र भी लिखा है, जिसमें विभोर ने मृतकों की आत्मा की शांति की प्रार्थना भी की है। विभोर के इस मानवीय कार्य की चारों ओर प्रशंसा की जा रही है।

Leave a Reply