माफिया के दबाव में शाहजहांपुर पुलिस ने पत्रकार को फंसाया

पुलिस उत्पीड़न के विरुद्ध शाहजहांपुर में भूख हड़ताल पर बैठे पत्रकार जगेन्द्र सिंह।
पुलिस उत्पीड़न के विरुद्ध शाहजहांपुर में भूख हड़ताल पर बैठे पत्रकार जगेन्द्र सिंह।

शाहजहांपुर पुलिस पूरी तरह माफियाओं के शिकंजे में है। माफिया के दबाव में पुलिस ने पत्रकार जगेन्द्र सिंह के विरुद्ध फर्जी मुकदमा ही नहीं लिखा, बल्कि जनसामान्य के बीच छवि खराब करने के उद्देश्य से पुलिस ने माफिया के ही दबाव में शाहजहांपुर में होर्डिंग भी लगवा दिए हैं, जिस पर जगेन्द्र सिंह को पकड़वाने वाले को इनाम देने की सूचना दी गई है। उत्पीड़न के विरोध में जगेन्द्र सिंह भूख हड़ताल पर बैठ गये हैं। उन्हें व्यापक स्तर पर समर्थन भी मिल रहा है।

पत्रकार जगेन्द्र के विरुद्ध शाहजहांपुर में लगा होर्डिंग।
पत्रकार जगेन्द्र के विरुद्ध शाहजहांपुर में लगा होर्डिंग।

उल्लेखनीय है कि पत्रकार जगेन्द्र सिंह ने शाहजहाँपुर के एक तेल माफिया के विरुद्ध खबरें छाप दीं, तो पुलिस की मिलीभगत से धंधा करने वाले माफिया ने जगेन्द्र के विरुद्ध रंगदारी का फर्जी मुकदमा दर्ज करा दिया। जगेन्द्र सिंह पूरे दिन फील्ड में रहते हैं, खबरें एकत्रित करने के लिए कोतवाली और पुलिस ऑफिस भी जाते रहते हैं, लेकिन पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार नहीं किया, पर कोर्ट से वारंट जारी करा लिया और वारंट के आधार पर शहर में होर्डिंग लगवा दिए, जिस पर पुलिस की ओर से सूचना दर्ज है कि जगेन्द्र को गिरफ्तार कराने वाले को इनाम दिया जायेगा।

पुलिस ने धूर्तता की हद पार कर दी है। पुलिस का इरादा है कि जगेन्द्र की आम जनता के बीच छवि खराब हो जाये, साथ ही माफिया अपने गुंडों से पकड़वा कर बेइज्जत करा दे। माफिया के दबाव में पुलिस के उत्पीड़न के विरुद्ध जगेन्द्र कलेक्ट्रेट परिसर में भूख हड़ताल पर बैठ गये हैं।

Leave a Reply