गोमती नदी में नाले का पानी नहीं गिरना चाहिए: मुख्य सचिव

मुख्य सचिव आलोक रंजन
मुख्य सचिव आलोक रंजन
उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आलोक रंजन ने निर्देश दिए हैं कि गोमती नदी में लखनऊ शहर के किसी भी नाले का गंदा पानी नहीं गिरना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह प्रत्येक दशा में सुनिश्चित किया जाये कि गोमती नदी का पानी स्वच्छ एवं शुद्ध रहे। उन्होंने कहा कि गोमती नदी की गंदगी को साफ करने के लिए वर्तमान में मौजूद गंदे पानी को नदी से बाहर बहाने की सुनियोजित कार्य योजना बनाई जाये। कार्य योजना के तहत इस बात का अवश्य ध्यान रखा जाये कि गोमती नदी की सफाई के दौरान गंदे पानी को बाहर बहाने के समय गोमती में स्वच्छ पानी बाहर से न आने की स्थिति पर लखनऊवासियों को गोमती नदी से होने वाली जलापूर्ति बाधित न होने पाये। उन्होंने कहा कि लखनऊ शहर के नालों का गंदा पानी शहर के बाहर गिराने की व्यवस्था सुनिश्चित कराते हुए ऐसी योजना बनाई जाये कि गंदे पानी को आवश्यकतानुसार साफ कराकर सिंचाई हेतु उपयोग किया जा सके।
मुख्य सचिव आज लखनऊ में शास्त्री भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में गोमती नदी की सफाई के सम्बन्ध में सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि रात्रि में गोमती नदी की सुन्दरता को बढ़ाने के लिए जनवरी माह के अन्त तक गोमती बैराज पर पर्याप्त लाइटिंग की व्यवस्था प्रत्येक दशा में सुनिश्चित हो। उन्होंने कहा कि गोमती नदी के तटों की गंदगी को हटाते हुए इस बात का भी प्रयास किया जाये कि भविष्य में गंदगी पुनः न होने पाये।
श्री रंजन ने यह भी निर्देश दिए कि गोमती नदी के किनारे बने बैकुण्ठ धाम को और अधिक सुन्दर एवं सुविधाजनक बनाये जाने हेतु आवश्यकतानुसार बैकुण्ठ धाम को मुख्य मार्ग सड़क के समकक्ष ऊंचा कराया जाये, ताकि वृद्ध एवं अपंग लोगों को सीढि़यों का सहारा लेकर बैकुण्ठ धाम न जाना पड़े। उन्होंने कहा कि बैकुण्ठ धाम की ऊंचाई बढ़ाते समय इस बात का भी ध्यान रखा जाये कि इच्छुक लोगों को गोमती नदी के पानी को स्पर्श करने हेतु जाने के लिए गोमती नदी के तरफ पर्याप्त सीढ़ियों की व्यवस्था हो। उन्होंने कहा कि बैकुण्ठ धाम के पास पार्किंग की अव्यवस्था को देखते हुए पार्किंग हेतु पर्याप्त स्थान चिन्हित कर आवश्यकतानुसार व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराई जायें, ताकि  नागरिकों को किसी प्रकार की असुविधा न होने पाये। बैठक में प्रमुख सचिव सिंचाई दीपक सिंघल, मण्डलायुक्त लखनऊ महेश कुमार गुप्ता, जिलाधिकारी लखनऊ राजशेखर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

Leave a Reply