गोरखपुर की है लखनऊ में दरिंदों की शिकार बनी महिला

गुरुवार को हुई दर्दनाक घटना की भयावह तस्वीर, जिसमें हैंडपंप के आसपास खून बिखरा नज़र आ रहा है।
गुरुवार को हुई दर्दनाक घटना की भयावह तस्वीर, जिसमें हैंडपंप के आसपास खून बिखरा नज़र आ रहा है।

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के मोहनलालगंज इलाके में दरिंदगी का शिकार हुई महिला की शिनाख्त हो गई है। मृतका गोरखपुर की मूल निवासी है और प्रतिष्ठित चिकित्सा संस्‍थान पीजीआई के न्यूक्लियर मेडिसिन विभाग में संविदा पर कार्यरत स्टाफ नर्स बताई जा रही है।

उल्लेखनीय है कि मोहनलालगंज के गाँव बलसिंह खेड़ा के प्राथमिक स्कूल परिसर में गुरुवार सुबह नग्न अवस्था में लाश मिली थी। मौके का नज़ारा देख कर हर किसी का दिल दहल गया था। इस घटना की शिकार महिला गोरखपुर की मूल निवासी बताई जा रही है। प्रतिष्ठित चिकित्सा संस्‍थान पीजीआई के न्यूक्लियर मेडिसिन विभाग में संविदा पर कार्यरत स्टाफ नर्स थी। बताया जाता है कि बुधवार देर रात ड्यूटी कर के जा रही थी, तभी उसे कुछ कार सवार उठा ले गये। महिला विधवा और दो बच्चों की माँ भी थी।

घटना के खुलासे की ज़िम्मेदारी अब एडीजी सुतापा सान्याल को दी गई है। इस घटना के चलते दो पुलिस कर्मियों के साथ एसएसपी प्रवीण कुमार ने मोहनलालगंज के इंस्पेक्टर कमरुद्दीन खान और एसआई मुन्नी लाल को सस्पेंड कर दिया है, लेकिन अभी महिला को अगवा करने और गैंगरेप की धारायें मुकदमे में नहीं जोड़ी गई हैं।

उधर काकोरी में नहर के किनारे महुंडा गांव के पास शुक्रवार सुबह खेत में एक महिला की लाश मिलने से सनसनी फैल गई है। आशंका है कि इसे भी गैंगरेप के बाद मौत के घाट उतारा गया है। महिला की उम्र 20-22 वर्ष के आसपास बताई जा रही है।

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

स्कूल परिसर में गैंगरेप के बाद युवती की निर्दयता से हत्या

Leave a Reply