हूटिंग करने वाले छिछोरे वकील को महिला ने जूते से पीटा

मनचले वकील को चप्पल से पिटती साहसी महिला।
मनचले वकील को जूते से पीटती साहसी महिला।

देश भर की महिलाओं को इस महिला से सबक लेना चाहिए। अगर, कोई मनचला हूटिंग करे, तो उसके साथ ऐसा ही करना चाहिए, जैसा इस महिला ने किया। हालाँकि यह कानून को तोड़ने वाली सलाह है, लेकिन सिर्फ कानून के सहारे मनचले नहीं सुधरने वाले। महिलाओं को संकोच त्यागना होगा और अपनी सुरक्षा स्वयं ही करनी होगी। इस महिला की हर कोई प्रशंसा करता नजर आ रहा है।

साहसिक घटना पीलीभीत की है, जहाँ शाम करीब चार बजे टनकपुर मार्ग पर स्कूटी से जा रही एक महिला का बाइक सवार तीन युवक पीछा करते आ रहे थे। कांशीराम बारात घर के पास युवकों ने हूटिंग की, जिसे महिला ने गंभीरता से नहीं लिया और आगे बढ़ती रही, लेकिन बाइक सवार युवक पीछा करने लगे, तो जिला अस्पताल के सामने महिला ने तेजी से स्कूटी रोक कर बाइक को भी रोक लिया और पीछे बैठे एक युवक को दबोच लिया।

महिला ने पैर से जूता निकाल कर हूटिंग करने वाले मनचले की पिटाई शुरू कर दी, तो जूता पड़ते ही मनचले ने स्वयं को वकील बता कर महिला को डराने का प्रयास किया, लेकिन महिला नहीं रुकी और जूते से ही धुनाई लगाती रही। महिला पीटते हुए यह भी कह रही थी कि इससे पहले वह चेतावनी दे चुकी थी, लेकिन वह नहीं माना।

छिछोरी हरकत पर महिला को पुलिस के पास जाना चाहिए था, या महिला हेल्पलाइन की मदद लेनी चाहिए थी, लेकिन उसने ऐसा नहीं किया और स्वयं ही छिछोरों से भिड़ गई। दो भाग गये और एक की उसने जमकर धुनाई लगा दी, इस घटना पर महिला की जमकर प्रशंसा हो रही है और अधिकांश लोग यही कहते नजर आ रहे हैं कि अब महिलाओं को छिछोरों के साथ ऐसे ही पेश आना चाहिए। कुछ लोगों का तो यहाँ तक कहना है कि इस महिला को सरकार को सम्मानित करना चाहिए, ताकि हजारों, लाखों महिलाओं को इससे प्रेरणा मिल सके।

देखने/सुनने के लिए क्लिक करें वीडियो

वीडियो

Leave a Reply