अधिवक्ताओं ने तस्करी से लाई गई लाखों रूपये की दवा पकड़ी

दूध की कैन में रखी दवा।
दूध की कैन में रखी दवा।

बदायूं में जिम्मेदार अफसर तो सिर्फ मस्ती कर रहे हैं, लेकिन पीड़ित और शोषित वर्ग को न्यायालय में न्याय दिलाने वाले अधिवक्ता न्यायालय के बाहर भी सक्रीय नजर आ रहे हैं। चाय पीते समय अधिवक्ताओं ने आज तस्करी के द्वारा आई लाखों रूपये की दवा पकड़ ली।

जी हाँ, जिला न्यायालय के उत्तरी द्वार के सामने चाय की दुकान हैं, जहां अधिवक्ता चाय पीने आते रहते हैं। आज दोपहर कुछ अधिवक्ता चाय पीने पहुंचे, तो उस वक्त एक व्यक्ति थैले से दवा निकाल कर दूसरे व्यक्ति को दे रहा था, जो दूध की कैन में रख रहा था,  इस सब पर अधिवक्ताओं की नजर पड़ गई, तो वे पूछताछ करने लगे।

अधिवक्ताओं के हस्तक्षेप करने पर दोनों व्यक्ति घबरा गये, तो अधिवक्ताओं ने दोनों को पकड़ लिया और बुला कर पुलिस के हवाले कर दिया। बताया जा रहा है कि दर्द निवारक दवा है, जिसकी कीमत लाखों में है। कंपनी में काम करने वाला कस्बा बिसौली का निवासी एमआर गैंग बना कर दवा सप्लाई करता रहता है, वह आज यहाँ सप्लाई दे रहा था। दवा लेने वाला गाँव जखेली का निवासी पेशे से दुधिया है, जो कैन में दवा रख स्थानीय संबंधित स्थानों पर सप्लाई देता है। सूत्रों का कहना है कि इस धंधे में कुछ पत्रकार भी संलिप्त हैं।

Leave a Reply