श्यामा प्रसाद मुखर्जी के लक्ष्य को प्राप्त करना ही सच्ची श्रद्धांजलि होगी

पुण्यतिथि के अवसर पर डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करते भाजपा कार्यकर्ता।

बदायूं में हरी बोल कॉलोनी स्थित भाजपा विधायक महेश चंद्र गुप्ता के आवास पर आज जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि के अवसर पर उनके चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी गई। डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के कार्यों को याद किया गया और उनके बताये मार्ग पर चलने का संकल्प भी लिया गया।

भाजपा के महामंत्री सुधीर श्रीवास्तव ने कहा कि 23 जून 1953 को डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की कश्मीर के अंदर जेल में मृत्यु हो गई थी। डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी का जन्म 6 जुलाई 1901 को कोलकाता में हुआ था, वह एक प्रतिष्ठित परिवार में पैदा हुए थे, उनके पिताजी आशुतोष मुखर्जी शिक्षाविद थे। 33 वर्ष की आयु में ही डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी कोलकाता विश्वविद्यालय के कुलपति बने और 4 साल में ही उन्होंने विश्वविद्यालय को बहुत ऊंचाइयों पर पहुंचा दिया। डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने अपनी पूरी शिक्षा प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण की तथा उन्होंने वकालत की पढ़ाई भी की। डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के मन में देश प्रेम का भाव था, देश आजाद होने के बाद महात्मा गांधी के आग्रह पर डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी जवाहरलाल नेहरू सरकार में मंत्री बने और उन्होंने अपने कर्तव्य का पूरी निष्ठा से पालन किया, लेकिन कांग्रेसी विचारधारा से मेल न खाने के कारण उन्होंने मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया। 21 अक्टूबर 1951 को उन्होंने जनसंघ की स्थापना की। वे धारा 370 के विरोधी थे, उन्होंने जम्मू कश्मीर में दो विधान, दो निशान का विरोध किया था, उस समय जम्मू कश्मीर में परमिट व्यवस्था थी। डॉ. साहब इसके विरोध में थे और बिना परमिट लेकर कश्मीर गए, जहाँ उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया तथा जेल में ही उनकी रहस्यमय परिस्थितियों में मृत्यु हो गई।

विश्वजीत गुप्ता ने कहा कि डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के लक्ष्य को प्राप्त करना और उनके सपनों को साकार करना ही उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि होगी, इस अवसर पर जिला महामंत्री शादेन्दु पाठक, राहुल वार्ष्णेय, जैकी वार्ष्णेय, मनोज मोदी, आशीष शाक्य, पुष्पेन्द्र सैनी, संजीव पटेल, आर्येन्द्र पटेल, संजीव गुप्ता, प्रतीक मिश्रा और अंकित गुप्ता सहित तमाम कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

Leave a Reply