सांसद ने अफसरों को हड़काया, बैठक में नहीं आये आबिद

बैठक की अध्यक्षता करते हुए अफसरों को निर्देश देते सांसद धर्मेन्द्र यादव।
बैठक की अध्यक्षता करते हुए अफसरों को निर्देश देते सांसद धर्मेन्द्र यादव।
बदायूं लोकसभा क्षेत्र के लोकप्रिय सांसद धर्मेन्द्र यादव की अध्यक्षता में आज जिला विकास समन्वय एवं अनुश्रवण समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में आंवला लोकसभा क्षेत्र के सांसद धर्मेन्द्र कश्यप व राज्यमंत्री ओमकार सिंह यादव सहित अन्य जनप्रतिनिधि भी उपस्थित रहे, लेकिन सदर विधायक आबिद रजा बैठक में नहीं आये, जिससे चर्चा रही कि वे शायद, सांसद धर्मेन्द्र यादव का आमना-सामना करने से बच रहे होंगे।
बैठक में राजीव गांधी विद्युतीकरण योजना के तहत गांवों में किए जा रहे विद्युतीकरण की धीमी गति, निजी नलकूप के कनेक्शनों, विद्युत चेकिंग के नाम पर किसानों से उगाही तथा त्रुटिपूर्ण बिल सही कराने के लिए उपभोक्ताओं का आर्थिक दोहन जैसे गम्भीर मुददों पर कड़ी नाराजगी जताई गई। समिति के अध्यक्ष सांसद धर्मेन्द्र यादव ने अधीक्षण अभियन्ता से कहा कि उनका अपने अधिकारियों पर कोई नियन्त्रण नहीं है, अथवा यह सब उन्हीं की मिलीभगत से हो रहा है। सांसद ने चेतावनी दी कि यदि सुधार नहीं हुआ, तो परिणाम ठीक नहीं होगा।
छात्रा को सोलर लैंप देते सांसद धर्मेन्द्र यादव।
छात्रा को सोलर लैंप देते सांसद धर्मेन्द्र यादव।
बदायूं के विकास भवन स्थित सभा कक्ष में समिति के उपाध्यक्ष आंवला लोकसभा लोकसभा क्षेत्र के सांसद धर्मेन्द्र कश्यप, प्रदेश के ग्राम्य विकास विभाग के राज्यमंत्री ओमकार सिंह यादव, प्रदेश के पिछड़ा वर्ग वित्त एवं विकास निगम के अध्यक्ष व एमएलसी बनवारी सिंह यादव, जिला पंचायत अध्यक्ष मधु चन्द्रा एवं बिसौली विधायक अशुतोष मौर्य सहित समिति के सभी सदस्यों के साथ सांसद धर्मेन्द्र यादव ने गत बैठक की कार्रवाई की पुष्टि की, तो सदस्यों ने समय पर खराब ट्रांसफार्मर न बदलने, विद्युत विभाग के सभी जेई द्वारा की जा रही मनमानी, निजी नलकूप के पंजीकरण के नाम पर किसानों से उगाही तथा गांवों में विद्युतीकरण का कार्य अत्यन्त सुस्त होने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की गई। सांसद धर्मेन्द्र यादव ने वर्षों से एक स्थान पर जमे सभी जेई का दूसरे स्थानों पर तबादला करने के निर्देश दिए हैं। आंवला के सांसद धर्मेन्द्र कश्यप सहित कई सदस्यों ने लोक निर्माण विभाग और अन्य कार्यदायी संस्थाओं द्वारा हाल ही में बनाई गई सड़कों की गुणवत्ता खराब होने व टूटने की शिकायत की, जिस पर सांसद धर्मेन्द्र यादव ने निर्देश दिए कि संयुक्त कमेटी बनाकर जांच कराई जाए। सांसद ने बाईपास और राजकीय मेडीकल कॉलेज के निर्माण की प्रगति की भी समीक्षा की। सदन ने हौसला पोषण योजना के तहत दिए जा रहे पके पकाए भोजन वितरण की जांच कराने की भी मांग की। सांसद धर्मेन्द्र यादव ने सभी नगर पालिकाओं में समान रूप से ई-रिक्शा वितरण कराने हेतु परियोना अधिकारी डूडा को निर्देश दिए हैं।
सीसी मार्गों का लोकार्पण करते सांसद धर्मेन्द्र यादव।
सीसी मार्गों का लोकार्पण करते सांसद धर्मेन्द्र यादव।
इससे पूर्व सांसद धर्मेन्द्र यादव ने ग्राम पंचायत विकास योजना के तहत 1.25 लाख रूपए की लागत से बनाई गई 30 सीसी सड़कों का भी लोकार्पण किया और कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय की छात्राओं को सोलर लैंप का वितरण किया। बैठक में कौशल विकास मिशन द्वारा प्रकाशित कौशल सप्ताह एवं विश्व युवा कौशल दिवस नामक पुस्तिका का भी विमोचन किया गया। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी प्रताप सिंह भदौरिया, एडीएम प्रशासन अशोक कुमार श्रीवास्तव, एडीएम वित्त राजेन्द्र प्रसाद यादव, डीआरडीए के परियोजना निर्देशक रविन्द्र नाथ सिंह सहित सभी निकायों के अध्यक्ष तथा ब्लॉक प्रमुख और अन्य सदस्यगण मौजूद रहे।
संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

Leave a Reply