उत्तर प्रदेश की चारों दिशाओं में तांडव, एक इंस्पेक्टर भी शहीद

शहीद इंस्पेक्टर राजकुमार सिंह।
शहीद इंस्पेक्टर राजकुमार सिंह।

उत्तर प्रदेश में हत्या, लूट और डकैती की वारदातें आम होती जा रही हैं, वहीं अपहरण भी उद्योग के रूप में पुनः जगह बनाता नजर आ रहा है। महिलायें भी सुरक्षित नहीं हैं, साथ ही भयमुक्त वातावरण बनाने की जिम्मेदारी जिसके कंधों पर है, वो पुलिस भी सुरक्षित नहीं है।

जी हाँ, आज शाम फर्रुखाबाद में सदर कोतवाली इंस्पेक्टर राजकुमार सिंह की बदमाशों ने गोली मार कर हत्या कर दी।  इंस्पेक्टर टीम के साथ वांछित अपराधी चंद्र प्रकाश कोरी उर्फ़ पप्पू का पीछा कर रहे थे, तभी लकूला रोड पर पप्पू ने इंस्पेक्टर की ओर तमंचे से फायर झोंक दिया, जिसके लगते ही इंस्पेक्टर राजकुमार सिंह मौके पर ही ढेर हो गये, लेकिन साथी सिपाहियों ने पप्पू को दबोच लिया। पप्पू शातिर अपराधी है और उस पर पहले से ही कई गंभीर धाराओं के मुकदमे दर्ज हैं। घटना को लेकर पूरे इलाके में दहशत का माहौल है।

बबलू व गुड़िया का फाइल फोटो।
बबलू व गुड़िया का फाइल फोटो।

हापुड़ में प्रेमी जोड़े को मौत के घाट उतार दिया। घटना हापुड़ के गाँव कुचेसर चौपला की है। सुबह करीब साढ़े दस बजे सोनू और दनिशता को बेरहमी से मार दिया। दोनों ने करीब दो महीने पहले कोर्ट मैरिज की थी। परिजन प्रेम विवाह के विरुद्ध थे। दोनों गांव के बाहर बने घर में रहते थे। लड़की के भाई ने अपने पांच दोस्तों के साथ मिल कर घेर लिया और दोनों को तलवार से काट डाला।

हमीरपुर में केन नदी में खनन को लेकर नवनिर्वाचित विधायक शिवचरण प्रजापति व उनके समर्थक और ग्रामीण भिड़ गये। हमीरपुर जिले के सिसोलर थाना क्षेत्र में केन नदी में खनन को लेकर विधायक शिवचरण प्रजापति और उनके समर्थकों के विरुद्ध ग्रामीण लामबंद हो गये। ग्रामीणों ने खनन का विरोध किया, तो विधायक शिवचरण प्रजापति तथा उनके समर्थकों ने मारपीट शुरू कर दी, साथ ही विधायक पक्ष के लोग फायरिंग करने लगे, जिससे इलाके में दहशत बरकरार है।

बदायूं जिले के कस्बा उझानी स्थित मोहल्ला गददी टोला में रात पति बबलू और पत्नी गुड़िया को मौत के घाट उतार दिया। मृतक के मामा और दो ममेरे भाईयों पर पुरानी रंजिश में हत्या करने का आरोप है। बबलू और गुड़िया गाजियाबाद में रहते थे और दो दिन पहले ही ममेरे भाई की शादी में सम्मलित होने के लिए आये थे। बदायूं के ही थाना मुजरिया क्षेत्र के गाँव रफी नगर में 65 वर्षीय घनेंद्र को मार दिया। भाई व भतीजे पर हत्या का आरोप है एवं बदायूं जिले के वजीरगंज थाना क्षेत्र में स्थित गाँव लहरा में दहेज को लेकर पति, सास व देवरों ने नाजिश को मौत के घाट उतार दिया। मृतकों के घर कोहराम मचा हुआ है।

बबलू व गुड़िया की मौत पर विलखती बबलू की बहन।
बबलू व गुड़िया की मौत पर विलखती बबलू की बहन।

Leave a Reply