बेदर्द पुलिस ने पुलिस ऑफिस में ही बाँध रखी है घायल गाय

एसएसपी कार्यालय के प्रांगण में पेड़ से बंधी घायल गाय।
एसएसपी कार्यालय के प्रांगण में पेड़ से बंधी घायल गाय।

बदायूं जिले की बिसौली कोतवाली क्षेत्र के गाँव निजामुद्दीनपुर शाह के लोगों को पुलिस ने मूर्ख बना दिया। गंभीर रूप से घायल गायों को उपचार के लिए गोशाला भेजने का वायदा किया गया था, लेकिन एक घायल गाय एसएसपी कार्यालय में ही छुपा कर रखी गई है, जिसके बारे में कोई कुछ भी बताने को तैयार नहीं है।

उल्लेखनीय है कि गुरूवार की रात में बिसौली कोतवाली क्षेत्र के गाँव निजामुद्दीनपुर शाह में बेखौफ पशु तस्करों ने तेरह गायों को धारदार हथियारों के वार से बुरी तरह घायल कर दिया था। दरिंदे तस्करों ने टाँगें काट कर गायों को अपंग बना दिया था, जिससे एक घायल गाय ने तड़प-तड़प कर उसी दिन दम तोड़ दिया था। तस्कर नौ गायों को मार कर ले गये थे, जिससे घटना के दिन काफी बवाल हुआ था। पुलिस व प्रशासन के अफसरों ने ग्रामीणों से वायदा किया था कि गंभीर रूप से घायल गायों को गोशाला भेज कर उपचार करायेंगे, तब ग्रामीण शांत हुए थे, इस घटना को लेकर शनिवार को बिसौली में ऐतिहासिक बंद भी रहा था, साथ ही शनिवार को घायल गायों में से तीन और गायों ने दम तोड़ दिया था, लेकिन अभी तक पुलिस एक भी तस्कर को गिरफ्तार नहीं कर सकी है।

उधर घायल गायों में से एक गाय सोमवार को एसएसपी कार्यालय में ही नज़र आई। एसएसपी कार्यालय के पीछे पेड़ से बंधी गाय की एक टांग कटी थी और सामने सीने पर भी लंबा घाव था, जिस पर मक्खियाँ लगी थीं। गाय के बारे में अलग-अलग कई लोगों से बात की, पर पुलिस विभाग का एक भी अफसर कुछ भी बताने को तैयार नहीं है, जिससे स्पष्ट है कि घटना को लेकर पुलिस कितनी सक्रीय है। पुलिस की उदासीनता से स्पष्ट है कि हृदय विदारक घटना को अंजाम देने वाले तस्करों को पुलिस शायद ही पकड़ पायेगी।

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

तस्करों ने हृदय विदारक घटना को दिया अंजाम, 28 गायें काटीं

तीन घायल गायों ने दम तोड़ा, बिसौली में ऐतिहासिक बंद

Leave a Reply