भ्रष्ट ब्यूरो चीफ से तंग आकर हिन्दुस्तान से पत्रकारों ने दिए सामूहिक त्याग पत्र

भ्रष्ट ब्यूरो चीफ जगमोहन शर्मा

बदायूं के हिन्दुस्तान कार्यालय के हालात सुधरने की जगह और बदतर होते जा रहे हैं। भ्रष्ट ब्यूरो चीफ जगमोहन शर्मा की नीतियों से तंग आकर कई पत्रकारों ने सामूहिक त्याग पत्र दे दिया है, जिससे हड़कंप मचा हुआ है।

हिन्दुस्तान अखबार का यह दुर्भाग्य ही कहा जायेगा कि एक यहाँ एक से बढ़ कर एक शातिर ब्यूरो चीफ आते रहे हैं, जिससे ब्रांड होने के बावजूद हिन्दुस्तान बदायूं जिले में अमर उजाला और दैनिक जागरण के कंपटीशन तक में नहीं आ पा रहा है। भ्रष्टाचार का बोलबाला रहने के चलते हिन्दुस्तान की खबरों पर यहाँ का पाठक विश्वास नहीं करता। बीच में मुलित त्यागी तैनात किये गये, तब पाठकों की विश्वसनीयता बढ़ने लगी थी, लेकिन वे स्वयं बदायूं नहीं रुके और अपना स्थानांतरण अपने गृह जनपद में करा ले गये, उनके बाद यहाँ जगमोहन शर्मा तैनात किया गया, जिसने अखबार को सिर्फ भ्रष्टाचार का माध्यम बना दिया है।

कार्यालय से जुड़े सूत्रों का कहना है कि जगमोहन शर्मा हर खबर पर रूपये चाहता है, साथ ही इसने हर क्षेत्र में अपने दलाल बना लिए हैं, जो सुबह से शाम तक इसके साथ कार्यालय में ही जमे रहते हैं, जिससे कार्यालय का माहौल भी खराब हो गया है। हालात तब भयानक हो गये, जब पिछले दिनों हुईं राजनैतिक गतिविधियों में संलिप्त होकर जगमोहन ने अखबार की साख पूरी तरह खराब कर दी।

भ्रष्ट जगमोहन की नीतियों से तंग आकर पहले तेजतर्रार रिपोर्टर ओमेन्द्र सिंह ने त्याग पत्र दिया, उसे तत्काल दैनिक जागरण ने ले लिया। ओमेन्द्र के साथ ही अन्य रिपोर्टर भी त्याग पत्र दे रहे थे, तब प्रबंधन ने आश्वासन दे दिया कि जगमोहन को हटाने पर विचार किया रहा है, लेकिन जगमोहन को नहीं हटाया गया, तो सोमवार को अभिषेक सक्सेना, हरीश कुमार और अरविंद सिंह ने भी त्याग पत्र दे दिया।

सूत्रों का कहना है कि प्रबंधन ने जगमोहन को अब भी नहीं हटाया, तो तहसील स्तरीय रिपोर्टर भी सामूहिक त्याग पत्र दे सकते हैं। यहाँ यह भी बता दें कि जगमोहन के आने के बाद बदायूं जिले में विज्ञापन के माध्यम से लाखों रूपये का घोटाला हुआ है, जो प्रबंधन के संज्ञान में है, लेकिन कार्रवाई न होने से बरेली तक के लोग घोटाले में संलिप्त माने जा रहे हैं।

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

हिन्दुस्तान अखबार के नाम पर एक वर्ष से हो रही है धोखाधड़ी

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

One Response to "भ्रष्ट ब्यूरो चीफ से तंग आकर हिन्दुस्तान से पत्रकारों ने दिए सामूहिक त्याग पत्र"

  1. Afzal Aziz Khan   January 10, 2017 at 3:25 PM

    Add your commentपत्रकारता को पत्रकारता ही रखना हर पत्रकार का फर्ज बनता है।मगर आज-कल के दौर में कुछ दलाल पत्रकारो ने पत्रकारता के नाम को इतना बदनाम कर रखा है कि लोग लग भग सभी पत्रकारो को दलाल की नज़र से देखने लगे हैं।देखने को मिलता है कि जब से टीबी और अख्बार के कुछ दलाल पत्रकारो का साथ हुआ है।तब से दलाली का बोलबाला बुलंदी पर है।और पत्रकारता दलाली के नाम पर पूरी तरह बदनाम होती जा रही है।जबकि पत्रकारता को साफ-सुथरा आईना बनाकर लोगो के सामने पेश करना हर पत्रकार का फर्ज है।
    मेरा पत्रकार भाईयो से कहना है की पत्रकारता को बदनाम न होने दें।इसमें ही भलाई है।
    आपका ….
    अफज़ल अजीज खाँन ( पत्रकार )
    दैनिक जागरण ( बदायूँ )
    मोबाईल नं….. 90 27 71 71 47

    Reply

Leave a Reply