पूर्वांचल के विकास के लिए धन की कमी नहीं: मुख्यमंत्री

  • मुख्यमंत्री ने जनपद जौनपुर राजकीय मेडिकल कालेज सहित 655 करोड़ रु0 की परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया
जनपद जौनपुर के वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय परिसर में आयोजित एक कार्यक्रम में बोलते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव।
जनपद जौनपुर के वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय परिसर में आयोजित एक कार्यक्रम में बोलते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज जनपद जौनपुर के वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय परिसर में आयोजित एक कार्यक्रम में जौनपुर राजकीय मेडिकल कालेज सहित जनपद की 655 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया।
इन परियोजनाओं में राजकीय मेडिकल कालेज, जौनपुर के अलावा 33/11 के.वी. विद्युत उप केन्द्र मई (गोरियापुर) ग्राम बरपुर स्थित पीली नदी का पुल, गोमती नदी पर बैजारामपुर घाट पर पुल का शिलान्यास, राजकीय आश्रम पद्धति बालिका इन्टर कालेज गयासपुर सिरकोनी, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सिकरारा के मुख्य भवन, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बक्शा के मुख्य भवन, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र खुटहन के मुख्य भवन, जिला महिला चिकित्सालय जौनपुर के उच्चीकरण, जिला चिकित्सालय जौनपुर का उच्चीकरण, ट्रामा सेन्टर जौनपुर का निर्माण, औद्योगिक क्षेत्र सतहरिया में अग्नि शमन केन्द्र का निर्माण, भैसा पम्प नहर पर 33/0.4 के0बी0 सब स्टेशन एवं स्वतंत्र फीडर लाइन के निर्माण का लोकार्पण शामिल है। श्री यादव ने बदलापुर के विधायक के प्रस्ताव पर बदलापुरखर्द से बलुआ मार्ग के बीच पीली नदी पर पुल एवं पहुॅच मार्ग के निर्माण, कस्तजूरीपुर-दुगौली कला मार्ग के बीच पीली नदी पर पुल एवं पहुंच मार्ग के निर्माण, दयालापुर-डेहुडा मार्ग के बीच पीली नदी पर पुल एवं पहुॅंच मार्ग के निर्माण की घोषणा की। उन्होंने निजी क्षेत्र के निर्माण कार्य सुशीला जैव उर्वरक कम्पनी (सुबिको) प्रा0लि0, धर्मा देवी महाविद्यालय बेलापार (हयातगंज) बक्शा, जौनपुर का उद्घाटन भी किया।
मुख्यमंत्री ने उ0प्र0 भवन एवं अन्य सन्निर्माण अधिनियम के अन्तर्गत पंजीकृत श्रमिकों की मृत्यु के उपरान्त उनके आश्रितों को आर्थिक सहायता प्रदान करने की व्यवस्था के तहत सोभनाथ आश्रित स्व0 ओमप्रकाश, सुदामा आश्रिता स्व0 मोतीलाल, प्रेम चन्द्र आश्रित स्व0 प्रमिला, तेज बहादुर गौतम आश्रित स्व0 कलावती देवी, किरन गुप्ता आश्रिता स्व0 सुरेश चन्द गुप्ता प्रत्येक को 01 लाख 15 हजार रुपये का चेक भी प्रदान किया।
इस अवसर पर आयोजित समारोह में अपने विचार व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि मेडिकल कालेज के लिए पर्याप्त धन की व्यवस्था कर ली गयी है। उन्होंने कार्यदायी संस्था राजकीय निर्माण निगम को निर्देशित किया कि हर हालत में वर्ष 2017 से पूर्व मेडिकल कालेज बनकर तैयार हो जाये। पूर्वांचल विकास निधि को बढ़ाने का आश्वासन देते हुए उन्होंने कहा कि पूर्वांचल के विकास के लिए धन की कमी को आड़े नहीं आने दिया जायेगा।
श्री यादव ने कहा कि पिछले ढाई सालों के कार्यकाल में चिकित्सा एवं शिक्षा के क्षेत्र में प्रदेश सरकार ने जितना काम किया है, उतना देश की किसी अन्य सरकार ने नहीं किया। ‘108’ समाजवादी स्वास्थ्य एम्बुलेन्स सेवा व ‘102’ नेशनल एम्बुलेन्स सेवा के माध्यम से घायल एवं बीमार व्यक्तियों तथा गर्भवती महिलाओं को शीघ्रातिशीघ्र चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने की व्यवस्था की गई है। राजकीय अस्पतालों में मुफ्त पैथालाॅजिकल जांचों, एक्सरे एवं चिकित्सा की सुविधा उपलब्ध है। प्रदेश के विभिन्न जनपदों में मेडिकल काॅलेजों की स्थापना की जा रही है। प्रदेश सरकार मेडिकल काॅलेजों में एम.बी.बी.एस. की 500 सीटें बढ़वाई गईं हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि समाजवादी सरकार जनता से किए गए सभी वायदों को पूरा कर रही है। किसानों कोे मुफ्त सिंचाई सुविधा उपलब्ध करायी गयी है। मीडिया का ध्यान आकृष्ट करते हुए कहा कि मेरी सरकार द्वारा जब विधायकों को चार पहिया वाहन क्रय हेतु विधायक निधि से धनराशि दिये जाने का प्रस्ताव किया तो इसका बड़े जोर शोर से विरोध हुआ। किन्तु जब समाजवादी सरकार ने गरीबों की गम्भीर बीमारी के लिए विधायक निधि से 25 लाख रूपये खर्च किये जाने का आदेश दिया तो इसे व्यापक प्रचार-प्रसार नहीं मिला।
विद्युत समस्या का जिक्र करते हुए श्री यादव ने कहा कि वर्तमान में केन्द्र से राज्य को 5005 मेगावाट के स्थान 3425 मेगावाट ही बिजली मिल पा रही है। इसलिए समस्या से निजात नहीं मिल रही है। तहसील एवं जिलों में कल कारखाने तेजी से लग रहे हैं, जिससे बिजली की मांग भी बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि इस समस्या को दूर करने के लिए प्रदेश सरकार प्रतिबद्ध है। बिजली खरीद करके भी ग्रामीण क्षेत्र में 14-16 घंटे बिजली उपलब्ध करायी जाएगी। उन्होंने कहा कि नौजवान बेरोजगारों को नौकरी देने के लिए भर्तियां भी शीघ्र की जायेगी। समारोह को प्रदेश के कैबिनेट मंत्री पारसनाथ यादव, राजेन्द्र चौधरी, रामगोविन्द चौधरी ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर अन्य जनप्रतिनिधियों सहित शासन-प्रशासन के अधिकारी और बड़ी संख्या में जनसमुदाय मौजूद था।

Leave a Reply