आम जनता की समस्याओं का निराकरण करें अफसर: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि स्थानीय स्तर पर आम जनता की समस्याओं को सुनकर निराकरण का गम्भीरता से प्रयास किया जाए। उन्होंने कहा कि इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि लोगों की लखनऊ आने-जाने की समस्या एवं उनके अनावश्यक खर्च को देखते हुए ही जनता का दर्शन/जनता का दरबार कार्यक्रम का आयोजन स्थगित कर स्थानीय स्तर पर समस्याओं को सुनकर प्रभावी निस्तारण करने के निर्देश दिए गए हैं। इसलिए लोगों को लखनऊ आने के बजाय स्थानीय स्तर पर ही अपनी समस्याओं को बताकर समाधान कराना चाहिए।
मुख्यमंत्री आज लखनऊ स्थित अपने सरकारी आवास पर आए लोगों से मुलाकात कर उनकी समस्याओं को सुन रहे थे। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारियों को प्रत्येक कार्यदिवस में निर्धारित समय में अपने कार्यालयों में मौजूद रहकर लोगों की समस्याओं को सुनने और शिकायतों/समस्याओं को सूचीबद्ध कर गुणवत्तापूर्वक समाधान के सख्त निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा पार्टी के सांसदों एवं विधायकों से भी स्थानीय स्तर पर लोगों की समस्याओं को सुनने और उनका समाधान कराने के लिए कहा गया है।
जनपदवार तहसील दिवस एवं अन्य अवसरों पर लोगों की समस्याओं को सुनने एवं उनके निराकरण की गुणवत्ता की शासन स्तर पर लगातार समीक्षा की जा रही है। उन्होंने यह भी कहा कि जब स्थानीय स्तर पर जनता की समस्याओं के सुनने एवं समाधान की व्यवस्था की गई है, तो लोगों को लखनऊ आने की आवश्यकता नहीं पड़नी चाहिए। इससे साफ है कि अधिकारी इस कार्य में लापरवाही बरत रहे हैं। उन्होंने आगाह किया कि जनता की समस्याओं के प्रति उपेक्षा बरतने वाले अधिकारियों के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply