220 करोड़ देकर बरेली वालों का दिल लूट ले गये मुख्यमंत्री

विजेता को कप प्रदान करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव व साथ में खड़े हैं सांसद धर्मेन्द्र यादव।
विजेता को कप प्रदान करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव व साथ में खड़े हैं सांसद धर्मेन्द्र यादव।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज बरेली के उत्तर प्रदेश स्पोर्ट्स स्टेडियम में आयोजित आई.जी.सी.एल. टूर्नामेन्ट के समापन के अवसर पर विजेता टीमों को पुरस्कृत करते हुए बरेली के बहुमुखी विकास के लिए 220 करोड़ 30 लाख रुपए की 25 विकास योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। उन्होंने इस मौके पर 300 श्रमिकों को साइकिलें एवं 200 मेधावी विद्यार्थियों को निःशुल्क लैपटाॅप वितरित किए। उन्होंने कहा कि बरेली के विकास के लिए जो भी प्रस्ताव उनके पास आए, उन्हें स्वीकृत किया गया और भविष्य में भी यहां के लोगों के लिए जो भी जरूरी होगा, उसे क्रियान्वित किया जाएगा। माइक पर 24 मिनट धारा प्रवाह विकास के साथ वे अन्य तमाम मुददों पर भी खुल कर बोले।
मुख्यमंत्री ने स्थानीय जनप्रतिनिधियों की मांग पर बरेली में श्यामतगंज पर फ्लाईओवर पुल के निर्माण, दो डिग्री कालेजों की स्थापना, बरेली-बदायूं पर बाईपास निर्माण की औपचारिक स्वीकृति देते हुए कहा कि इन कार्यों के लिए बजट में प्राविधान किया जाएगा और चरणबद्ध ढंग से पूरा कराया जाएगा। उन्होंने मशहूर उर्दू शायर एवं शिक्षाविद वसीम बरेलवी की विशेष मांग पर रूहेलखण्ड विश्वविद्यालय, बरेली में पंडित राधे श्याम कथावाचक एवं आला हज़रत की अध्ययन पीठ/चेयर स्थापना की स्वीकृति प्रदान की।
श्री यादव ने कहा कि उनकी सरकार ने सबसे ज्यादा संख्या में श्रमिकों को साइकिलें एवं विद्यार्थियों को लैपटाॅप निःशुल्क वितरित किए हैं। इसके साथ ही सरकार ने नये मेडिकल काॅलेज, आई.टी.आई., पाॅलीटेक्निक, पैरामेडिकल काॅलेज स्थापित किए हैं। उन्होंने कहा कि पहली बार प्रदेश में इतनी बड़ी संख्या में एम.बी.बी.एस. में सीटें बढ़ाई गई हैं। इसके अलावा स्वास्थ्य सेवाओं को और बेहतर बनाने के लिए ‘108’ समाजवादी स्वास्थ्य सेवा ‘102’ नेशनल एम्बुलेंस सर्विस बिना भेदभाव के हर व्यक्ति के लिए उपलब्ध है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस प्रशासन को और चुस्त-दुरुस्त बनाने के लिए सरकार ऐसी योजना क्रियान्वित करने जा रही है कि किसी घटना की सूचना मिलने पर 15 मिनट में पुलिस भी स्थल पर पहुंचे। यह पुलिस महकमे में देश की सबसे बड़ी व्यवस्था होगी। उन्होंने कहा कि सरकार हर वर्ग व क्षेत्र के लिये तालमेल से कार्य कर रही है। किसान को मुफ्त पानी, समय से खाद-बीज मिल रहा है। कामधेनु योजना से प्रदेश में दुग्ध उत्पादन में वृद्धि की जा रही है। सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक एवं सामाजिक सौहार्द को खराब करने वाली सामग्री के सम्बन्ध में तत्काल पुलिस प्रशासन को सूचित करने के लिए वाट्सएप नम्बर जारी किया गया है। इसके साथ ही, सभी जनपदों के पुलिस प्रशासन को ऐसी सामग्री पर पैनी निगाह रखने के निर्देश दिए गए है। उन्होंने युवाओं से सोशल मीडिया पर ऐसी सामग्री से सावधान रहने का सुझाव दिए। विद्युत आपूर्ति के मामले में उन्होंने कहा कि राज्य सरकार पूरे प्रदेश में भरपूर विद्युत उपलब्ध कराने के लिए कई महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। उन्होंने बिजली विभाग के अभियंताओं को मांग के अनुसार पर्याप्त विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।
श्री यादव ने कहा कि निफ्ट के लिये नोएडा तथा लखनऊ में जमीन उपलब्ध है। बरेली में भी जमीन की व्यवस्था करा दी जायेगी। केंद्र सरकार जो भी योजना उ.प्र. में लायेगी, प्रदेश सरकार उसके लिये जमीन मुहैया कराएगी। उन्होंने खिलाड़ियों तथा उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित करते हुए कहा कि इण्डियन क्रिकेट लीग टूर्नामेन्ट एक विशेष आयोजन है। इसमें टेनिस बाॅल का प्रयोग होता है। इसके लिए उन्होंने कार्यक्रम आयोजन के अध्यक्ष अनुराग भदौरिया को बधाई व शुभकामनायें दी।
स्टेडियम में अपार युवा जनसमूह को देखकर मुख्यमंत्री ने बरेली के इस आयोजन को बहुत सराहा और कहा कि इससे ग्रामीण खेल प्रतिभाओं को निखरने का अवसर मिलेगा। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय स्तर के बड़े खिलाड़ी भी शुरूआती दौर में टेनिस बाॅल से खेलेे होते हैं। बरेली के टूर्नामेंट में बरेली की टीम विजेता एवं बदायूं टीम उप विजेता रही। इस अवसर पर सांसद धर्मेन्द्र यादव, प्रदेश के राजनैतिक पेंशन मंत्री राजेन्द्र चौधरी, पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री अम्बिका चौधरी और लघु उद्योग राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भगवत शरण गंगवार सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण, विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधि, समाजसेवी एवं अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।
सांसद धर्मेन्द्र यादव की हुई जय-जयकार
बदायूं के लोकप्रिय सांसद धर्मेन्द्र यादव ने ही बदायूं-बरेली बाईपास का मुददा उठाया था और भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को चुनौती दी थी कि वे बनवायें। आज बदायूं-बरेली बाईपास की मुख्यमंत्री ने घोषणा की, तो लोग सांसद धर्मेन्द्र यादव की जय-जयकार करने लगे।

Leave a Reply