वंदे मातरम और जय श्रीराम की गूँज के बीच मुख्यमंत्री का गोरखपुर में भव्य स्वागत

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी कार्यभार ग्रहण करने के बाद प्रथम वार गृह क्षेत्र गोरखपुर पहुंचे हैं, उनका प्लेन हवाई अड्डे पर शाम लगभग 5.15 बजे जैसे ही उतरा, वैसे ही समूचा वातावरण जय श्रीराम के नारे के साथ योगी और मोदी जिंदावाद के नारों से गूँज उठा। लग रहा था कि योगी के स्वागत को समय भी थम गया है, हर हाथ उनके चरणों तक पहुंचना चाहता था।

जन सैलाब का अभिवादन स्वीकार करते हुए मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी का काफिला नंदानगर, मोहद्दीपुर, यूनिवर्सिटी चौराहा, गणेश चौराहा, महाराणा प्रताप इंटर कॉलेज, गोलघर, गणेश तिराहा, काली मंदिर, यातायात तिराहा, धर्मशाला और गोरखनाथ पुल होते हुए गोरखनाथ मंदिर पहुंचा, इस बीच उन्हें बुके मिलते रहे और जगह-जगह गले में हार पड़ते रहे, वह काफी दिनों के बाद मंदिर में रात्रि विश्राम करेंगे।

अभिनंदन से भाव-भिवोर दिख रहे मुख्यमंत्री ने कहा कि यह मेरा नहीं, बल्कि प्रदेश के 22 करोड़ लोगों का अभिनंदन है, उन्होंने कहा कि प्नदेश के नौजवानों को अपना भविष्य उज्ज्वल नहीं दिख रहा था। पूर्व की सरकारों में प्रदेश का विकास नहीं हो रहा था। प्रधानमंत्री को प्रदेश के विकास की चिंता है, उन्होंने गोरखपुर में एम्स और फर्टिलाइजर प्लांट की नींव रखवाई। बोले- मुख्यमंत्री का पद धौंस जमाने का नहीं, बल्कि कर्तव्य का है। तुष्टिकरण किसी का नहीं, सबका विकास होगा, किसी के साथ लिंग, समुदाय या जाति के आधार पर भेदभाव नहीं होगा।

बोले- मैं आश्वासन देता हूँ कि किसी भी समुदाय के व्यक्ति के साथ भेदभाव नहीं होगा, कोई नया निर्णय नहीं होगा, हमने चुनाव से पूर्व जो बातें कही हैं, उनका शब्दश: पालन करेंगे। भ्रष्टाचार मुक्त शासन होगा, गुंडामुक्त प्रशासन होगा, प्रदेश में प्रत्येक नागरिक के सुरक्षा की गारंटी होगी। उन्होंने कार्यकर्ताओं और समर्थकों को जोश में होश न खोने की हिदायत देते हुए कहा कि कानून हाथ में मत लेना।

उन्होंने कहा कि जो शोहदे किस्म के हैं, उन पर कड़ाई से कार्रवाई होनी चाहिए। प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि आपसी सहमति से बैठे युगलों को परेशान न किया जाए। रात के 12 बजे भी कोई भी बालिका, या युवती यूपी में अपने आप को सुरक्षित महसूस करेगी। छेड़छाड़ होने पर स्थानीय अधिकारी जिम्मेदार होंगे, हम यूपी में कानून का राज्य स्थापित करेंगे। उन्होंने कहा कि कैलाश मानसरोवर यात्रा के लिए हर व्यक्ति को सरकार एक लाख रुपये का अनुदान देगी। भाषण की महत्वपूर्ण बात यह रही कि शुरू वंदे मातरम से किया और अंत जय श्रीराम के नारे के साथ किया।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

Leave a Reply