सात माह की बच्ची और ढाई साल के बेटे को दो लाख में बेचा

सात माह की बच्ची और ढाई साल के बेटे को दो लाख में बेचा
सात माह की बच्ची और ढाई साल के बेटे को दो लाख में बेचा

बदायूं जिले में जो हो जाये, वही कम लगता है। ऐसी-ऐसी घटनायें प्रकाश में आती हैं कि मानवता तार-तार हो जाती है और विश्व समुदाय तक निंदा करता है। अब बच्चों के बेचने का मामला प्रकाश में आया है। गरीब तबके के एक दंपत्ति ने दुधमुंही बच्ची और मासूम बच्चे को मात्र दो लाख रूपये में बेच दिया। घटना की पूरे इलाके में व्यापक स्तर पर चर्चा हो रही है। मामला पुलिस के भी संज्ञान में है, लेकिन पुलिस ने अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है।

चौंका देने वाली यह वारदात बदायूं जिले में स्थित वजीरगंज थाना क्षेत्र के गाँव पुसगवां की है। बताते हैं कि मुस्लिम धर्म के एक अंसारी परिवार के पास सात महीने की बेटी और ढाई साल का बेटा है। इसी गाँव का लोहार जाति का एक परिवार नोयडा में रहता है, जिसने दोनों मासूमों को दो लाख रूपये में खरीदा है। बच्चों का पिता बड़ा ही शातिर किस्म का इंसान बताया जाता है। बच्चे नोयडा ले जाये जा चुके हैं, लेकिन पुलिस ने अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है। बताया जा रहा है कि थानाध्यक्ष भोलू सिंह भाटी के निर्देश पर सब-इंस्पेक्टर यशपाल आर्य घटना की जांच कर रहे हैं।

उधर घटना की पूरे इलाके में व्यापक स्तर पर चर्चा है। हर कोई निंदा कर रहा है, साथ ही अधिकाँश लोगों की इच्छा है कि दुधमुंहे बच्चों को बेचने वालों और खरीदने वालों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।

Leave a Reply