शीत लहर, नैनीताल और नया वर्ष बोले तो मजे ही मजे

शीत लहर, नैनीताल और नया वर्ष बोले तो मजे ही मजे

                                                          किरन कांत शीत लहर के अपने मजे हैं, जिनको शीत लहर पसंद है, इस मजे के वही हकदार होते हैं। शीत लहर, नया साल और नैनीताल एक साथ हों, तो फिर मजा कई गुना बढ़ जाना स्वाभाविक ही है। इस मजे को लेने […]

रामलीला में विवाद जैसा कुछ नहीं, भव्य फिल्म है

रामलीला में विवाद जैसा कुछ नहीं, भव्य फिल्म है

संजय लीला भंसाली की रामलीला रिलीज हो गई है, लेकिन सिर्फ विवादित फिल्म देखने का मन हो, तो फिल्म देखने का इरादा त्याग दें, क्योंकि फिल्म में विवाद जैसी कोई बात नहीं हैं। चूँकि फिल्म संजय लीला भंसाली की है, इसलिए भरपूर पैसा लगाया गया है, तो कुछ न कुछ तो होना स्वाभाविक ही है। […]

‘सूपर से ऊपर’ में दर्शकों को कीर्ति का अभिनय भाया

‘सूपर से ऊपर’ में दर्शकों को कीर्ति का अभिनय भाया

फिल्म ‘सूपर से ऊपर’ 25 अक्टूबर को रिलीज हो चुकी है। फिल्म की शुरुआत में कहानी थोड़ा बोर करती है, पर जैसे-जैसे कहानी आगे बढ़ती जाती है, वैसे रूचि और पसंद भी बढ़ती जाती है। फिल्म में मुख्य भूमिकाएं वीर दास, कीर्ति कुल्हरी, गुलशन ग्रोवर, दीपक डोबरियाल और यशपाल शर्मा ने निभाई हैं, जिनमें गुलशन […]

सैफ अली को बहन सोहा के बोल्ड सीन पर आपत्ति

सैफ अली को बहन सोहा के बोल्ड सीन पर आपत्ति

परंपरागत सोच से दूर समझे जाने वाले बॉलीवुड में भी लोग लिंग-भेद से ऊपर नहीं उठ पा रहे हैं। अपनी बेटी की उम्र की लड़की करीना कपूर से हाल ही में दूसरी शादी रचाने वाले सैफ अली खान को अपनी बहन के बोल्ड सीन पर आपत्ति है और वह बेहद नाराज भी हैं। तिग्मांशु धुलिया […]

कड़कड़ाती ठंड में भी सैफई महोत्सव का पारा चढ़ा

कड़कड़ाती ठंड में भी सैफई महोत्सव का पारा चढ़ा

जनपद इटावा के गाँव सैफई में चल रहा चर्चित महोत्सव पूरे शबाब पर है। सत्ताधारी परिवार को चेहरा दिखाने और मस्ती करने के इरादे से प्रदेश भर से वीवीआईपी नेता और अफसरों के पहुँचने का सिलसिला जारी है, जिससे स्थानीय अधिकारियों की मस्ती पर ग्रहण लग गया है। महोत्सव में सब कुछ है। छोटे, बड़े, […]

देविका ने युसूफ को बनाया दिलीप कुमार

देविका ने युसूफ को बनाया दिलीप कुमार

हिन्दुस्तान और पकिस्तान में बराबर सम्मान पाने वाले दिलीप कुमार जैसे सौभाग्यशाली लोग बहुत कम होते हैं। हिंदुस्तान के ट्रेजडी किंग और पाकिस्तान के निशान-ए-इम्तियाज दिलीप कुमार उर्फ युसूफ खान का जन्म आज ही के दिन 11 दिसम्बर 1922 को वर्तमान में पाकिस्तान में स्थित पेशावर शहर में हुआ था। विभाजन के दौरान उनका परिवार […]

शर्लिन ने बेशर्मी की हद पार की

शर्लिन ने बेशर्मी की हद पार की

सामाजिक सोच पूरी तरह बदलती जा रही है, इसी का दुष्प्रभाव है की लोग कुख्यात होने में भी परहेज नहीं कर रहे हैं, ताज़ा उदाहरण अभिनेत्री शर्लिन चोपड़ा है, उसने ट्विटर पर लिखा है कि कुछ समय पहले तक वो लोगों से पैसे लेकर सेक्स किया करती थीं। यह करने में उन्हें बहुत आनंद आता […]

भीष्म साहनी : मानवीय संवेदना के सशक्त हस्ताक्षर

भीष्म साहनी : मानवीय संवेदना के सशक्त हस्ताक्षर

भीष्म साहनी का जन्म 8 अगस्त 1915 को रावलपिण्डी में एक सीधे-सादे मध्यवर्गीय परिवार में हुआ था। 1935 में लाहौर के गवर्नमेंट कालेज से अंग्रेजी विषय में एम.ए. की परीक्षा उत्तीर्ण करने के पश्चात् उन्होने डॉ इन्द्रनाथ मदान के निर्देशन में ‘Concept of the hero in the novel’ शीर्षक के अन्तर्गत अपना शोधकार्य सम्पन्न किया। […]

हँसो-हँसाओ

पत्नी- तुम मुझसे कितना प्यार करते हो? पति- इतना करता हूँ, कि तुम्हारा जूठा जहर भी पी सकता हूँ, आज़माकर देख लो। ——— संता- डार्लिंग, अभी-अभी मेरा एक दोस्त खाने पर हमारे घर आने वाला है। जीतो- तुम्हारा दिमाग खराब है? पूरा घर अस्त-व्यस्त पड़ा है, किचन में सामान भी नहीं है, मैं बहुत थकी […]