सपा विधायक के साले के हत्यारोपी फरार, मृतक की अंत्येष्टि

मृतक तुकमेश के चेहरे पर स्पष्ट नजर आते चोट के निशान और खून।
मृतक तुकमेश के चेहरे पर स्पष्ट नजर आते चोट के निशान और खून।

बदायूं स्थित जिला कारागार में मौत के घाट उतार दिए गये तुकमेश यादव की गंगा किनारे राजघाट पर अन्येष्टि कर दी गई। जेल के तीन अफसरों सहित छः लोगों के विरुद्ध पुलिस द्वारा हत्या और हत्या के षड्यंत्र का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पोस्टमार्टम में हत्या होने के साक्ष्य मिले हैं। मृतक के शरीर पर चोटों के निशान पाये गये हैं। हालांकि मौत का कारण जहर आया है। बिसरा भी सुरक्षित कर दिया गया है।

उल्लेखनीय है कि संभल जिले में स्थित कोतवाली गुन्नौर क्षेत्र के गाँव नदरौली निवासी तुकमेश यादव (24) की बीती रात बदायूं स्थित जिला कारागार में मृत्यु हो गई। मृतक के भाई योगेश यादव ने आरोप लगाया कि नदरौली के ही निवासी मुनीश, राजेश और उदयवीर से मिल कर जेल अधीक्षक एल.एन.दोहरे, डिप्टी जेलर सुनील गौतम और सीओ दीपक चौहान ने तुकमेश को मौत के घाट उतार दिया।

मृतक के भाई योगेश यादव की तहरीर पर थाना सिविल लाइन पुलिस ने धारा- 302 और 120बी आईपीसी के अंतर्गत मुकदमा पंजीकृत कर शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पोस्टमार्टम में हत्या के आरोप को बल मिला है। मृतक के शरीर पर चोटों के पांच निशान पाये गये हैं, जो संकेत करते हैं कि मृतक को पीटा गया था। हालांकि मृत्यु का कारण जहर माना जा रहा है। स्थिति स्पष्ट न होने के कारण बिसरा सुरक्षित कर दिया गया है, जो लैब जायेगा, जहाँ जाँच के बाद स्पष्ट खुलासा हो सकेगा।

मृतक तुकमेश ने चार पेज का सुसाइटनोट भी छोड़ा है, जिसमें जेल अफसरों पर ही आरोप लगाया गया है। मृतक ने लिखा है कि आरोपी जेल अफसर अक्सर प्रताड़ित करते रहते थे। सुसाइटनोट में यह भी लिखा है कि उसे कुछ हो जाये, तो उसके जिम्मेदार उक्त अफसर ही माने जायें।

उधर देर शाम मृतक की गुन्नौर क्षेत्र में गंगा किनारे राजघाट पर अंत्येष्टि कर दी गई, जहाँ तमाम रिश्तेदारों सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे। पुलिस ने घटना की जांच शुरू कर दी है। सभी आरोपी फरार बताये जा रहे हैं। यह भी बता दें कि मृतक गुन्नौर क्षेत्र के सपा विधायक रामखिलाड़ी सिंह यादव का साला है।

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

जेल अफसरों ने की सपा विधायक के साले की हत्या, हड़कंप

Leave a Reply