हवालात से संदिग्ध को छुड़ा ले गया सपा का छुटभैया नेता

भीड़ को संबोधित करते वाहिद खान।
भीड़ को संबोधित करते वाहिद खान।

बदायूं जिले की पुलिस ने आज समाजवादी पार्टी के एक छुटभैये नेता के समक्ष समर्पण कर दिया। छुटभैया नेता दबंगई के बल पर थाने से आरोपी को छुड़ा ले गया। पुलिस छुटभैये नेता के विरुद्ध कार्रवाई करने की जगह घटना को दबाने का प्रयास करती नजर आ रही है।

घटना थाना इस्लामनगर की है, यहाँ दो दिन पूर्व पंजाब नैशनल बैंक की शाखा में चोरी का प्रयास किया गया था, साथ ही असफल होने पर चोर बैंक में आग लगा गये थे, इस वारदात का अज्ञात चोरों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज है। पुलिस ने कुछ संदिग्ध लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया, तो उन्हें छोड़ने की सिफारिश आने लगी।

सूत्रों का कहना है कि स्थानीय सपा नेता व पूर्व चेयरमैन वाहिद खान के कहने पर पुलिस ने दो लोगों को छोड़ दिया। थाने की हवालात में एक व्यक्ति और बंद था, जिसके बारे में कहा जा रहा है कि वह बैंक में लगे सीसीटीवी में रिकॉर्ड हो गया था, पुलिस उससे अन्य साथियों के नाम उगलवाना चाह रही थी, इस बीच वाहिद खान ने पुलिस पर उसे भी छोड़ने का दबाव बनाना शुरू कर दिया, लेकिन पुलिस ने उसे छोड़ने से मना कर दिया।

थाना इस्लामनगर पर जमा भीड़ में महिलायें।
थाना इस्लामनगर पर जमा भीड़ में महिलायें।

बताते हैं कि वाहिद खान ने सैकड़ों पुरुष और महिलाओं को इकट्ठा कर सुबह करीब सात बजे थाना इस्लामनगर पर धावा बोल दिया। थाने पर खड़े होकर पुलिस के विरुद्ध भाषण दिया और खुलेआम लोगों को भड़काने का प्रयास किया। भीड़ बढ़ती देख पुलिस घबरा गई और करीब 12 बजे पुलिस ने हवालात में बंद आरोपी को वाहिद खान के हवाले कर दिया, तो भीड़ वाहिद खान की जय-जयकार करते हुए आरोपी को लेकर लौट गई।

बता दें कि कस्बा इस्लामनगर का थाना बीच बाजार में है, जिससे आज अफवाहों के चलते बाजार में अफरा-तफरा का माहौल बना रहा। भीड़ के सहारे वाहिद खान द्वारा हवालात से आरोपी को छुड़ा लेने के चलते पुलिस की भी बड़ी फजीहत हो रही है, लेकिन इस घटना पर कोई कुछ कहने को तैयार नहीं है, साथ ही घटना को दबाने का प्रयास किया जा रहा है। यह भी बता दें कि थाना इस्लामनगर का कार्यभार ट्रेनी दारोगा पर है, जिससे छुटभैये और दबंग पुलिस पर हावी हो गये हैं।

One Response to "हवालात से संदिग्ध को छुड़ा ले गया सपा का छुटभैया नेता"

  1. Himanshu Gupta   November 21, 2016 at 9:51 AM

    इस्लामनगर में ऐसा पहले भी होता रहा है..ये छूटभैया नेता पहले भी पुलिस प्रसासन पर कई दफ़ा दबाब बनाने में कामयाब रहा है लेकिन आला अफ़सर इस ओर ध्यान ही नही देते..Shame Shame

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.