पांच हजार रूपये हड़पने को रिश्वतखोरों ने ले ली गरीब जच्चा की जान

बदायूं जिले में स्वास्थ्य विभाग के हालात सुधर नहीं पा रहे हैं। जिसके घर में धूप और वर्षा का पानी सीधे जाता है, छत तक डलवाने की हैसियत नहीं है, ऐसे परिवार से पहले पांच हजार रूपये की रिश्वत ली गई, जिसके बाद लापरवाही के चलते जच्चा की मौत हो गई और मौत के बाद भी दरिंदे रिश्वतखोरों ने गरीब परिवार के रूपये वापस नहीं किये।
हृदय विदारक घटना बदायूं जिले के कस्बा उसावां में स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की है। प्रदेश सरकार जच्चा-बच्चा के हित में कई योजनायें चला रही हैं, उन्हें कई सुविधायें दे रही है। प्रसव के लिए प्रसव केंद्र पर जच्चा को एंबुलेंस लेकर आती है और बाद में घर तक छोड़ने भी जाती है, लेकिन क्षेत्र के गाँव फुलचियाई निवासी राजेश्वरी को उसका पति ग्रीश और सास सुदामा लेकर पहुंची, तो दर्द से तड़प रही राजेश्वरी का तत्काल उपचार शुरू करने की जगह पांच हजार रूपये देने को कहा गया। दलील दी गई कि निजी अस्पताल में जाते, तो वहां भी तो रूपये खर्च करते, यहाँ तो बहुत कम मांगे जा रहे हैं। गरीब पति ने किसी तरह जुटाये रूपये रिश्वतखोर भेड़ियों को दे दिए, तब राजेश्वरी को स्टाफ ने हाथ लगाया।
बताते हैं कि डॉक्टर और नर्स की लापरवाही से राजेश्वरी की मौत हो गई, जिसके बाद कागजी औपचारिकता पूरी कर परिजनों से कह दिया गया कि शव लेकर जाओ राजेश्वरी की मौत के बाद भी रिश्वतखोरों को दया नहीं आई, उन्होंने गरीब परिवार के रूपये वापस नहीं कियेडॉक्टर से बात करने में भी डरने वाले गरीब पीड़ित शव लेकर गाँव चले गये और शव का अंतिम संस्कार कर दिया। बताते हैं कि मृतका राजेश्वरी का यह तीसरा बच्चा था, इससे पहले उसके दो बच्चे ऑपरेशन से ही हुए हैं, ऐसे में राजेश्वरी को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर रोकना ही नहीं था, उसे तत्काल एंबुलेंस द्वारा जिला अस्पताल भेजना चाहिए था, लेकिन पांच हजार रूपये हड़पने के लिए राजेश्वरी को रेफर नहीं किया गया, जिससे उसकी मौत हो गई। राजेश्वरी की मौत अत्यधिक रक्तस्राव के चलते हुई है।
(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)
गरीब परिवार का घर, दादी की गोद में नवजात शिशु और बराबर में बैठे गमगीन पति व बच्चे, इंसेट में मृतका राजेश्वरी।

Leave a Reply