प्रेमिका के परिजनों के देखने पर भाग गया, रच ली अपने अपहरण की कहानी

चन्द्रप्रकाश उर्फ केशव की मोटर साईकिल।

बदायूं जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक चन्द्रप्रकाश की कड़ाई के चलते पुलिस भी अपराधियों पर कहर ढा रही है अपराधी वारदातों को अंजाम देकर संभल नहीं पाते, तब तक उनका गिरेबान पुलिस पकड़ लेती है। एसएसपी ने घटनाओं का शत-प्रतिशत खुलासा करने का कड़ा आदेश दे रखा है, जिससे पुलिस पूरी तरह सक्रिय नजर आ रही है। पिछले दिनों हुई अपहरण की वारदात फर्जी बताई जा रही है। मामला प्रेम प्रसंग का बताया जा रहा है, जिसका पुलिस खुलासा करने के करीब पहुंच गई है। हालाँकि पुलिस अभी कुछ भी बताने को तैयार नहीं है।

उल्लेखनीय है कि 22 जून की सुबह चंद्रप्रकाश उर्फ केशव ने मोबाइल से अपने भाई को सूचना दी थी कि कुंवरगांव थाना क्षेत्र में रोड होल्ड कर उसका अपहरण कर लिया गया है, साथ ही उसने बताया था कि उसके साथ तीन लोग और बंधक हैं। अपहरण की सूचना पर परिवार में कोहराम मचा गया। थाना कुँवरगांव पर रामबेटी पत्नी ब्रजराज शर्मा निवासी ग्राम बैन थाना बिल्सी ने तहरीर दी, जिसमें कहा गया कि उसका बेटा चंद्रप्रकाश उर्फ केशव अपनी मोटरसाईकिल संख्या- यूपी- 24 ई 3992 स्प्लेंडर प्लस से अपने दोस्त की बहिन की शादी में गया था। केशव ने अपने भाई को आज सुबह 4.44 पर फोन कर के बताया कि ग्राम सोई के पास अज्ञात बदमाशों ने बाइक छीन ली है और उसे ट्यूबवैल के कमरे में बंद कर दिया है, उसने अपने साथ कमरे में तीन लोग और बंधक बताये थे, इस सूचना के बाद पुलिस विभाग में भी हड़कंप मच गया। पुलिस ने रामबेटी की तहरीर पर मुकदमा अपराध संख्या- 209/17 धारा 364/342/392 आईपीसी बनाम अज्ञात पंजीकृत कर लिया।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक चन्द्रप्रकाश ने घटना को गंभीरता से लेते हुए थानाध्यक्ष कुँवरगांव व स्वाट टीम को तुरन्त ही अपहृत व अपहरणकर्ताओं का पता लगाने का निर्देश दिया, साथ ही अपर पुलिस अधीक्षक (नगर) व क्षेत्राधिकारी (नगर) को भी घटना का शीघ्र खुलासा करने में जुटा दिया। कप्तान की कड़ाई के चलते पुलिस बहुत जल्द सच के पास पहुंच गई। हालाँकि पुलिस कुछ बता नहीं रही है, पर सूत्रों का कहना है कि कुंवरगांव थाना क्षेत्र के ही एक गाँव में चन्द्रप्रकाश उर्फ केशव का एक लड़की के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा है, जिससे वह मोबाइल से बात करता रहा है एवं उससे मिलता भी रहा है। सर्विलांस के माध्यम से पुलिस ने संबंधित लड़की के परिजनों से बात की, तो पता चला कि घटना की रात चंद्रप्रकाश उर्फ केशव आया, तो उसे लड़की के परिवार के लोगों ने देख लिया, इस पर वह बाइक छोड़ कर भाग गया और अँधेरे में आसानी से फरार हो गया, जिसके बाद उसने अपहरण की फर्जी कहानी बना ली। चंद्रप्रकाश उर्फ केशव के मोबाइल की लोकेशन भी लगातार बदल रही है। पुलिस ने घटना स्थल से बाइक बरामद कर ली है, साथ ही पुलिस चंद्रप्रकाश उर्फ केशव की खोजबीन में जुटी हुई है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

रोड होल्ड कर तीन अपहरण, कई हत्याओं से सनसनी, पेड़ पर मिली लाश

Leave a Reply