ब्लू व्हेल गेम को लेकर सरकार चिंतित, कर्ज से दबे किसान ने की आत्महत्या

मृतक हेमराज का बेटा विलखते हुए व शोकग्रस्त लोग और बिसौली में घटना स्थल पर खड़ी पुलिस।

एक दुनिया ऐसी है, जो ब्लू व्हेल गेम को लेकर बेहद चिंतित है, वहीं एक दुनिया ऐसी है, जो आज भी 16वीं और 17वीं शताब्दी वाली चिंताओं की गिरफ्त में हैं, जिनको लेकर लोग आसानी से जान दे रहे हैं, लेकिन इस पर कोई गंभीर नहीं है, क्योंकि यह तबका बेहद गरीब है, पिछड़ा और ग्रामीण वर्ग है। सरकार की प्रथम वरीयता ब्लू व्हेल से मरने वालों को बचाना है, न कि सूदखोर के भय से मरने वालों को। आज एक किसान की लाश मिली है, जिसको देख कर हर आम आदमी बेहद दुखी है।

भयावह घटना बदायूं जिले के थाना कुंवरगांव क्षेत्र में स्थित गाँव बल्लिया की है, यहाँ का कृषक हेमराज आठ दिनों से गायब था। परिजन हेमराज को खोज कर थक चुके थे। परिवार में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ था, इस बीच आज सुबह किसी ने देखा कि जंगल में ईख की फसल के बीच में पेड़ पर एक लाश लटकी है। लोगों ने देखा, तो हेमराज का शव था। शायद, गायब होने वाले दिन ही हेमराज ने आत्महत्या कर ली थी, तभी लाश क्षत-विक्षत हो गई थी। लटकी हुई लाश का कमर तक का हिस्सा जानवर खा गये थे। घटना स्थल पर न सिर्फ गाँव के, बल्कि पूरे क्षेत्र के लोगों का जमावड़ा लगा रहा। हेमराज की आत्महत्या को लेकर हर कोई दुखी है। बताया जाता है कि हेमराज पर लगभग सवा लाख रुपया सरकारी और तीन लाख रुपया सूदखोरों का कर्ज था, बेटी की शादी के अवसर पर उसने कर्ज लिया था, जिसे चुका नहीं पाया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने पंचनामा भर कर शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

उधर कस्बा बिसौली में डिग्री कॉलेज के पास एक लाश बरामद हुई है। मृतक काली पैंट पहने हुए है, ऊपर का हिस्सा नंगा है एवं कई दिन पुराना होने के चलते शव सड़ गया है। शव यहाँ लाकर डाला गया है, या मौके पर ही हत्या की गई है, इस बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता, जो भी हो, पर पुलिस को घटना के संबंध में भनक तक नहीं लगी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने पंचनामा भर कर शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply