महिला बंदियों को दिया जायेगा ब्यूटीशियन का प्रशिक्षण

जिला जेल में प्रशिक्षण केंद्र का फीता काट कर उद्घाटन करते जिला जज।
जिला जेल में प्रशिक्षण केंद्र का फीता काट कर उद्घाटन करते जिला जज।

बदायूं स्थित जिला करागार की महिला बंदियों को अब स्वाबलंबी बनाने की दिशा में प्रयास किये जा रहे हैं। पंजाब नैशनल बैंक की ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण योजना के तहत लगभग 62 महिला बंदियों को आगामी एक माह तक का ब्यूटी पार्लर का प्रशिक्षण दिया जाएगा। जनपद नयायाधीश डी.के. नैनवाल तथा मुख्य विकास अधिकारी प्रताप सिंह भदौरिया ने शुक्रवार को जिला जेल में प्रशिक्षण केन्द्र का फीता काटकर उद्घाटन किया।

प्रदेश सरकार द्वारा जिला जेल के बंदियों को स्वाबलंबी बनाने की पहल पर पंजाब नैशनल बैंक की ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण योजना के तहत निःशुल्क प्रशिक्षण दिए जाने का शुभारम्भ कर दिया गया है। प्रथम चरण में महिला बंदियों को ब्यूटी पार्लर का प्रशिक्षण दिया जाएगा। जनपद न्यायाधीश डी.के. नैनवाल, सीडीओ प्रताप सिंह भदौरिया, पंजाब नैशनल बैंक के मण्डल प्रमुख डी.डी. चांद एवं अग्रणी जिला प्रबन्धक पंजाब नेशनल बैंक चारू भट्टाचार्य ने फीता काटकर प्रशिक्षण केन्द्र का उद्घाटन किया।

महिला बंदी को सजाती-संवारती ब्यूटिशियन।
महिला बंदी को सजाती-संवारती ब्यूटिशियन।

इस अवसर पर जनपद न्यायाधीश ने कहा कि इससे महिला बंदियों को स्वरोजगार का अवसर प्रदान होगा, जिससे वह अपना जीवन-यापन बेहतर ढंग से व्यतीत कर सकेंगी एवं उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि इच्छुक महिला बंदी मनोयोग से ब्यूटी पार्लर के कार्य को सीखें। उन्होंने कहा कि हुनर, सीखी हुई विद्या कभी बेकार नहीं जाती, इसलिए दिए जा रहे निःशुल्क प्रशिक्षण का पूरा-पूरा लाभ उठाया जाए। एलडीएम ने कहा कि प्रथम चरण में महिलाओं, लड़कियों के लिए ब्यूटी पार्लर का प्रशिक्षण रखा गया है, इसके बाद सिलाई, कढ़ाई और अन्य प्रशिक्षण दिए जाने हेतु भी कार्य योजना तैयार की जाएगी।

उद्घाटन के पश्चात पंजाब नैशनल बैंक की ओर से सभी महिला बंदियों को अल्पाहार की व्यवस्था की गई थी। जनपद न्यायाधीश एवं सीडीओ ने सभी महिला बंदियों को अल्पाहार के पैकेट वितरण किए। दोनों अधिकारियों ने कहा कि महिला बंदियों की इच्छानुसार प्रशिक्षण दिलाए जाने की कार्रवाई कराई जाएगी। इस अवसर पर जेल अधिकारी भी मौजूद रहे।

Leave a Reply