नोट बदलने में नागरिकों को समस्या नहीं होनी चाहिए: सीएस

अफसरों को निर्देश देते मुख्य सचिव राहुल भटनागर।
अफसरों को निर्देश देते मुख्य सचिव राहुल भटनागर।
उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राहुल भटनागर ने प्रदेश के समस्त मण्डलायुक्तों, जिलाधिकारियों सहित पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि बैंकों में खाताधारकों को पूर्ण सुरक्षा प्रदान करते हुये उन्हें अपनी धनराशि जमा करने और निकालने में किसी भी प्रकार की असुविधा न होने पाये। उन्होंने समस्त बैंकों के वरिष्ठ अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि भारतीय रिजर्व बैंक के निर्देशानुसार खातेधारकों को बैंकों से अपनी धनराशि आदान-प्रदान करने हेतु आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित कराते हुये मान्य नवीन नोटों एवं छोटे नोटों की व्यवस्था जिला स्तर से जनपद की सभी शाखाओं में आवश्यक अनुमन्य धनराशि समय से अवश्य पहुंचा दी जाये। उन्होंने बैंक की समस्त शाखाओं में आम जनता की सुविधा हेतु अतिरिक्त काउण्टर खोलने के भी निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि यदि किसी कारणवश सम्बन्धित बैंकों की शाखाओं में मान्य नवीन नोटों एवं छोटी धनराशि के नोटों की कमी होने की स्थिति पर आम नागरिकों को यह समझाकर ही अगले दिन बुलाया जाये कि उनको धनराशि निकालने अथवा अपने पुराने नोट बदलने में किसी भी प्रकार की असुविधा नहीं होगी। उन्होंने बैंक के अधिकारियों को यह भी निर्देश दिये हैं कि बैंकों में आने वाले खाताधारकों एवं आम जनता के साथ मधुर व्यवहार कर भारतीय रिजर्व बैंक की गाइड लाइन्स के अनुसार उन्हें जानकारी उपलब्ध करायी जाये।
मुख्य सचिव आज लखनऊ स्थित शास्त्री भवन के सभागार में भारत सरकार द्वारा 500 एवं 1000 रुपये के नोटों को डिमोनोटाइज किये जाने के सम्बन्ध में भारतीय रिजर्व बैंक के क्षेत्रीय निदेशक अजय कुमार, बैंक आॅफ बड़ौदा के महाप्रबंधक बी.एस. ढाका, प्रमुख सचिव गृह देबाशीष पण्डा, प्रमुख सचिव वित्त अनूप चन्द्र पाण्डेय, पुलिस महानिदेशक जावीद अहमद, निदेशक डाक सेवायें डाक विभाग विवेक कुमार दक्ष सहित सम्बन्धित बैंकों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैंठक कर आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने सम्बन्धित बैंक के प्रतिनिधियों को निर्देश दिये कि ग्रामीण क्षेत्रवासियों को पुराने नोट बदलवाने की बेहतर सुविधा ग्रामीण स्तर पर बिजनेस प्रतिनिधि के माध्यम से सुविधा उपलब्ध करायें।
श्री भटनागर ने बैंक के वरिष्ठ अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि राज्य स्तर पर एक कण्ट्रोल रूम खोला जाये, जिसमें समस्त बैंकों के वरिष्ठ प्रतिनिधि अवश्य उपस्थित रहकर सम्बन्धित जनपदों के जिलाधिकारियों अथवा वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा बैंकों में होने वाली समस्याओं के समाधान की जानकारी तत्काल उपलब्ध करायें। उन्होंने कहा कि आम जनता को किसी प्रकार की असुविधा नहीं होनी चाहिये। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित कराया जाये कि समस्त बैंकों की प्रत्येक शाखाओं अर्थात शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में भी आवश्यक धनराशि आम जनता के लेन-देन के लिये अवश्य समय से उपलब्ध हो जाये। उन्होंने कहा कि बैंकों में आम जनता को आवश्यक जानकारी उपलब्ध कराने हेतु डिस्पले कराने की व्यवस्था भी सुनिश्चित करायी जाये। उन्होंने कहा कि यह भी सुनिश्चित कराया जाये कि ए0टी0एम0 मशीनों पर पर्याप्त धनराशि समय से उपलब्ध रहने के साथ-साथ ए0टी0एम0 खराब होने की स्थिति पर तत्काल ठीक कराने की व्यवस्था भी सुनिश्चित हो।
भारतीय रिजर्व बैंक के क्षेत्रीय निदेशक अजय कुमार ने बैठक में बताया कि कल से प्रदेश के समस्त बैंक खुल जायेंगे और आम जनता एवं खाते धारकों को सम्बन्धित बैंको से धनराशि जमा करने एवं निकालने हेतु आवश्यक धनराशि की व्यवस्था समस्त शाखाओं में करायी जा रही है। उन्होंने बताया कि ए.टी.एम. दिनांक 11 नवम्बर से कार्य करना प्रारम्भ कर देंगी। उन्होंने कहा कि यदि किसी नागरिक का बैंक में खाता न होने की स्थिति पर उसे निर्धारित प्रोफार्मा पर आवश्यक जानकारी उपलब्ध कराने पर 500 एवं 1000 रुपये के नोट बदलने की सुविधा भारतीय रिजर्व बैंक की गाइड लाइन्स के अनुसार उपलब्ध करायी जायेगी। उन्होंने कहा कि आम जनता को अपने 500 एवं 1000 रुपये के पुराने नोट बदलाने में किसी भी प्रकार की जल्दबाजी की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा आगामी 30 दिसम्बर तक प्रदेश के सभी बैंकों एवं डाकघरों में सुविधा उपलब्ध करायी गयी है। उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति किसी कारणवश अपने 500 एवं 1000 रुपये के नोट 30 दिसम्बर तक सम्बन्धित बैंकों में जमा नहीं कर पायेंगे, उन्हें भारतीय रिजर्व बैंक में घोषणा पत्र के साथ अपने पहचान पत्र जैसे आधार, वोटर आई.डी., पैन आदि दिखाकर आगामी 31 मार्च, 2017 तक अपने पुराने नोट जमा कराकर नये नोट नियमों के अनुसार प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि बैंकों में संभावित भीड़ से बचाव हेतु आम नागरिकों को आवश्यकतानुसार ही पुराने नोटों का एक्सचेंज करायें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.