डीएम की आवश्यक बैठक में भी नहीं आये अधिशासी अधिकारी

बदायूं की कलेक्ट्रेट स्थित नवीन सभा कक्ष में आयोजित उद्योग बन्धु की बैठक में बोलते जिलाधिकारी शंभूनाथ।
बदायूं की कलेक्ट्रेट स्थित नवीन सभा कक्ष में आयोजित उद्योग बन्धु की बैठक में बोलते जिलाधिकारी शंभूनाथ।

पार्किंग शुल्क के नाम पर ककराला, अलापुर, उसहैत तथा उसावां में हो रही अवैध वूसली के सम्बन्ध में जिलाधिकारी शम्भू नाथ ने संज्ञान लेते हुए कहा कि दोषी ठेकादारों के विरूद्ध कठोर कार्रवाई के साथ ही अवैध वसूली करने वालों को जेल भेजा जाएगा।
बदायूं की कलेक्ट्रेट स्थित नवीन सभा कक्ष में सोमवार को आयोजित उद्योग बन्धु की बैठक में व्यापारी सदस्यों द्वारा बिजली की अघोषित कटौती पर कड़ी नाराजगी जताई, जिस पर जिलाधिकारी ने विद्युत अभियन्ताओं को निर्देश दिए कि अघोषित कटौती न की जाए और लोकल फाल्ट तत्काल ठीक कराए जाएं। जिलाधिकारी ने कहा कि विद्युत विभाग का कोई भी अभियन्ता/कर्मचारी अपना मोबाइल नम्बर बन्द नहीं रखे और कॉल आने पर उसको तत्काल रिसीव किया जाए।
शहर में नालों की सफाई के नाम पर चल रही खाना पूर्ति पर सदस्यों ने असंतोष व्यक्त किया। सदस्यों द्वारा उठाई गई समस्याओं के समाधान हेतु जब जिलाधिकारी द्वारा अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद को तलब किया, तो वह बैठक में उपस्थित नहीं थे। जिलाधिकारी ने कड़ी नाराजगी जताते हुए अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद बदायूं के वेतन आहरण पर रोक लगाते हुए जवाब तलब करने के निर्देश दिए हैं।
दूध में मिलावट खोरी पर जिलाधिकारी ने सख्त निर्देश देते हुए कहा कि सम्बंधित अधिकारी पुलिस बल के साथ इसकी रोकथाम हेतु आवश्यक कार्रवाई करें। इसी प्रकार सड़े गले फलोें की विक्री पर भी प्रतिबन्ध लगाने के निर्देश दिए गए हैं। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वित एवं राजस्व राजेन्द्र प्रसाद यादव सहित सम्बंधित जिला स्तरीय अधिकारी एवं सदस्यगण मौजूद रहे।

Leave a Reply