बदायूं के चर्चित कांड में सीबीआई को कोर्ट में मिली बड़ी सफलता

आरोपियों को गाड़ी में बैठाते पुलिस कर्मी।
आरोपियों को गाड़ी में बैठाते पुलिस कर्मी।

उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में स्थित उसहैत थाना क्षेत्र के गाँव कटरा सआदतगंज की चर्चित घटना की जांच में सीबीआई टीम गहनता से जुटी हुई है। सीबीआई गाँव में लोगों से बात कर रही है, घटना स्थल पर पड़ताल कर रही है, पीड़ितों से बात कर रही है, वहीं जेल में बंद आरोपियों से भी बात कर रही है। सीबीआई ने आज आरोपियों की तकनीकी जाँच कराने संबंधी अनुमति कोर्ट से प्राप्त कर ली है, जो सीबीआई की बड़ी सफलता कही जा रही है।

उल्लेखनीय है कि 22 मई की रात को कटरा सआदतगंज में दर्दनाक घटना हुई, जिसमें दुष्कर्म के बाद चचेरी बहनों के शव आम के पेड़ पर लटका दिए गये थे, इस घटना में दो सिपाही और तीन सगे भाईयों सहित पांच लोग नामजद हैं और सभी जेल जा चुके हैं। परिजनों की मांग पर यूपी सरकार ने सीबीआई जांच की संस्तुति कर दी थी, जो केंद्र सरकार ने मंजूर कर ली।

कोर्ट परिसर में आपस में चर्चा करते सीबीआई टीम के सदस्य।
कोर्ट परिसर में आपस में चर्चा करते सीबीआई टीम के सदस्य।

बदायूं में कैंप कर सीबीआई टीम घटना की जांच कर रही है। मीडिया से पूरी तरह दूरी बना कर टीम घटना के खुलासे में रात-दिन एक किये हुए है। सीबीआई ने आज पाक्सो कोर्ट से आरोपियों की ब्रेन मैपिंग, नारको और लाई डिटेक्टर जांच कराने की अनुमति प्राप्त कर ली, जो सीबीआई की अब तक की सब से बड़ी सफलता कहा जा रहा है। सीबीआई 26 जून को आरोपियों को जेल से जांच के लिए ले जायेगी।

अगवा कर दुष्कर्म के बाद यादवों पर बहनों की हत्या का आरोप

बदायूं प्रकरण: पीड़ितों को न्याय मिलना चाहिए: राहुल गांधी

कटरा सआदतगंज में सदियों याद की जाती रहेगी यह घटना

माया, मीरा और धर्मेन्द्र पीड़ितों से मिले, कल आयेंगे पासवान

पीड़ितों से मिले पासवान, केंद्र सरकार पर भी उठे सवाल

दलीय और जातीय राजनीति का शिकार हुआ बदायूं कांड

Leave a Reply