भाजपा सरकार में अघोषित इमरजेंसी जैसे हैं प्रदेश और देश के हालात: धर्मेन्द्र

बदायूं के यूनियन क्लब में आज समाजवादी पार्टी के प्रांतीय आह्वान पर अगस्त क्रांति दिवस आयोजित किया गया, जिसमें देश बचाओ-देश बनाओ का नारा दिया गया। उपस्थित जन-समूह को संबोधित करते हुए सांसद धर्मेन्द्र यादव ने केंद्र सरकार और भाजपा के साथ स्थानीय नेताओं पर चौतरफा हमला बोला, साथ ही उन्होंने सपा कार्यकर्ताओं का शोषण करने वाले पुलिस-प्रशासन के अफसरों को कड़े लहजे में चेतावनी भी दी।

नेता जी के कहने पर मीरा कुमार को दिया वोट

रामनाथ कोविंद राष्ट्रपति निर्वाचित हो चुके हैं, लेकिन पत्रकारों से बात करते हुए सांसद धर्मेन्द्र यादव ने आज कहा कि उन्होंने नेता जी के कहने पर मीरा कुमार को वोट दिया था।

अखिलेश यादव का धन्यवाद

सांसद धर्मेन्द्र यादव ने अपनी बात शुरू करने से पहले राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का धन्यवाद व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि दो सौ साल संघर्ष चला, लेकिन 9 अगस्त 1942 को स्वतंत्रता की निर्णायक लड़ाई शुरू हुई थी, इस दिन को चुनने के लिए राष्ट्रीय अध्यक्ष का धन्यवाद। उन्होंने कहा कि प्रदेश के प्रत्येक जिला मुख्यालय पर कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं, यहाँ का दायित्व उन्हें सौंपा गया है, वहीं फैजाबाद में राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वयं उपस्थित हैं।

भाजपा शासन को बताया अघोषित इमरजेंसी

इमरजेंसी का उल्लेख करते हुए सांसद धर्मेन्द्र यादव ने कहा कि प्रदेश और देश के इस समय जो हालात हैं, वह अघोषित इमरजेंसी जैसे हैं। उन्होंने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव का उल्लेख करते हुए कहा कि उन्होंने संयुक्त विपक्ष बनाने का प्रयास किया और पटना में रैली बुला ली, तो पूरे परिवार को फंसा दिया। गुजरात में कल हुये राज्यसभा चुनाव का भी उन्होंने उल्लेख किया और भाजपा की कड़ी आलोचना करते हुए अहमद पटेल की जीत पर हर्ष व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि तीन वर्ष बाद भी जनता के बीच किया एक भी वादा पूरा नहीं किया। अब अच्छे दिन की कोई बात नहीं करता। 15 लाख रूपये मिलने के लालच में गरीबों ने खाते खुलवा दिए, लेकिन किसानों को उनकी फसल की लागत तक नहीं दे पा रहे, जिससे किसान आत्म हत्या कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसानों के बारे में सोचने का नरेंद्र मोदी के पास समय ही नहीं है, वे बड़े-बड़े उद्योगपतियों और विदेश यात्राओं में व्यस्त हैं। उन्होंने सवाल किया कि कितने लोगों को रोजगार दे दिया? नोटबंदी और जीएसटी का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि उद्योग धंधे चौपट कर दिए, व्यापारी परेशान हैं। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी चुनाव में कुछ कहते हैं और चुनाव बाद कुछ और कहते हैं। बोले- प्रदेश सरकार ने जनहितकारी योजनाओं को बंद दिया है।

आदित्यनाथ योगी और केशव प्रसाद मौर्य में नहीं बन रही

सांसद ने कहा कि बाबा जी ने बहुत उम्मीद दिलाई थी, लेकिन जेवर, इलाहाबाद और मथुरा की घटना पर मूक हो गये। उन्होंने दलितों के घर खाना खाने पर कहा कि सहारनपुर में सांसद ने अंबेडकर जयंती की यात्रा नहीं निकलने दी। उन्होंने कहा कि केशव प्रसाद मौर्य मुख्यमंत्री बनने को आये थे, लेकिन बना दिए संविधान के विरुद्ध उपमुख्यमंत्री और अब बाबा जी से बन नहीं रही है, इसलिए उन्हें पुनः केंद्र में भेजने की तैयारी चल रही है, तभी उनका त्याग पत्र नहीं हुआ है।

गौरक्षक दलों की गुंडई 

देश भर में गौरक्षा के नाम पर गुंडई हो रही है। उन्होंने कहा कि देश भर के सांसद मिलते हैं, वे बताते हैं कि देश भर के लोग गौरक्षकों से परेशान हैं, इस मौके पर समाजवादी संकल्प लेंगे कि उत्तर प्रदेश की जनता को इस अन्याय और अत्याचार से मुक्ति दिलाने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।

विधायकों को चुनौती

सांसद ने भाजपा के पाँचों विधायकों से अपील और आह्वान करते हुये चुनौती भी दी कि जो विकास कार्य उन्होंने शुरू कराये थे, उन्हें पूरा करा दें, तो वे मान लेंगे कि उन्होंने काम किया है। उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज में आज एक भी मजदूर काम नहीं कर रहा है। बाईपास का काम रुका हुआ है। उन्होंने कहा कि कोटेदारों से वसूली हो रही है। गुन्नौर तहसील क्षेत्र का हवाला देते हुए कहा कि वहां 163 कोटेदारों की एक साथ जाँच कराई जा रही है।

पुलिस-प्रशासन को चेतावनी

सांसद धर्मेन्द्र यादव ने पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि आम जनता व सपा कार्यकर्ताओं का अन्याय होगा और अत्याचार किया जायेगा, तो समाजवादी सड़क पर उतर कर सघंर्ष करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि जहाँ अन्याय होगा, वहीं आंदोलन करेंगे, थाने में होगा, थाने के गेट पर बैठेंगे और तहसील पर होगा, तो एसडीएम कार्यालय पर बैठेंगे।

सदर विधायक पर चुटकी ली

सदर क्षेत्र से भाजपा विधायक महेश चंद्र गुप्ता के बारे में सांसद ने कहा कि उन्होंने आतंकवाद को लेकर अन्न छोड़ दिया था। उन्होंने उपस्थित जनता से सवाल किया कि आतंकवाद खत्म हो गया? उनका आशय था कि अब विधायक जी ने खाना शुरू कर दिया है।

जनसमूह को संबोधित करते सांसद धर्मेन्द्र यादव।

तमाम नेताओं ने विचार व्यक्त किये

कार्यक्रम में सपा जिलाध्यक्ष आशीष यादव, पूर्व दर्जा राज्यमंत्री आबिद रजा, पूर्व दर्जा मंत्री मौलाना यासीन उस्मानी, पूर्व दर्जा राज्यमंत्री विमल कृष्ण अग्रवाल, पूर्व विधायक आशुतोष मौर्य, पूर्व विधायक प्रेमपाल सिंह यादव, पूर्व विधायक मुस्लिम खां, आस मोहम्मद खां, सुरेश पाल सिंह चौहान, रजनीश गुप्ता, बलवीर सिंह यादव, वाहिद खां, अवधेश यादव, अवनीश यादव, देवेन्द्र यादव, नईमुल हसन उर्फ लड्डन मियां ने अपने-अपने विचार रखे, इस मौके पर हिमांशु यादव, ओमवीर सिंह, नवाव सिंह, टेड़ामल अग्रवाल, सुखपाल सिंह, रामवीर सिंह, अशोक यादव, विपिन यादव, सुहेल सिद्दीकी, स्वाले चौधरी, इन्दू सक्सेना, महेन्द्र प्रताप, शहनवाज खां, शोएब नकवी, तनवीर हसन खां, प्रदीप गुप्ता, अम्बुज सिंह, हाफिज इरफान, विकास यादव, सलीम अहमद, इशरत खां, सुरेन्द्र सिंह, श्रवण कुमार सिंह, जमीर अहमद, मोहर सिंह पाल, नत्थूराम कश्यप, भानू प्रताप, ज्वाला प्रसाद कश्यप, सोवरन सिंह, कृष्णपाल सिंह, नाजमा, कृष्णा देवी, शावरा खातून, ग्रीश यादव, लाल मुहम्मद अंसारी, एम. फिरोज, कृष्णवीर सिंह, सगीर अहमद, देवन्द्र यादव, राहुल यादव, बिल्ला यादव, निहाल मौर्य, गुडडू खां, आमिर सुल्तानी, रवेन्द्र शाक्य, रहीस अहमद, हाजी अजमल, ललित गिरि, मोतशाम सिद्दीकी, अहमद परवेज बब्लू, नवनीत गुप्ता, विश्व नाथ मौर्य, हीरालाल वर्मा, राजवीर सिंह, हरभान सिंह और प्रभात अग्रवाल सहित हजारों की संख्या में सपा कार्यकर्ता व आम जनता मौजूद रही। अध्यक्षता सपा जिलाध्यक्ष आशीष यादव ने तथा संचालन गुलफाम सिंह यादव ने किया।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply