पत्रकार नरेन्द्र यादव पर हुए हमले पर बदायूं में रोष, ज्ञापन सौंपा

शाहजहांपुर के पत्रकार नरेन्द्र यादव पर हुए जानलेवा हमले के विरोध में जिलाधिकारी बदायूं को ज्ञापन देते पत्रकार।
शाहजहांपुर के पत्रकार नरेन्द्र यादव पर हुए जानलेवा हमले के विरोध में जिलाधिकारी बदायूं को ज्ञापन देते पत्रकार।

शाहजहांपुर के पत्रकार नरेन्द्र यादव पर जानलेवा हमला करने एवं एक अन्य पत्रकार राकेश श्रीवास्तव को जान से मारने की धमकी देने की घटना पर बदायूं के पत्रकारों में भी रोष नजर आया। आक्रोशित पत्रकारों ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपते हुए कहा सभी हमलावरों की शीघ्र गिरफ्तार किया जाये। इसके साथ मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मांग की गयी कि प्रदेश के सभी पत्रकारों की जान-माल की सुरक्षा की जिम्मेदारी प्रदेश सरकार द्वारा ली जाये।
गुरूवार दोपहर 12 बजे उ.प्र.जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन (उपजा) के बैनर तले पत्रकार मालवीय आवास गृह पर एकत्रित हुये। पत्रकारों ने नरेंद्र यादव के साथ हुई घटना की भर्त्सना करते हुये कहा कि ये बेहद शर्मनाक घटना है। कलमकार को इस तरह भय दिखाकर उसकी कलम की धार को मिटाने की साजिश है। लेकिन पत्रकार लोकतन्त्र का चौथा स्तम्भ होता है। अगर ऐसा होता रहा तो लोकतन्त्र भी कमजोर होगा। अतः प्रदेश सरकार को कलमकारों को पूरी सुरक्षा मुहैया प्रदान करनी चाहिये। उपजा जिलाध्यक्ष सचिन भारद्वाज ने कहा कि पड़ोसी जनपद के दो पत्रकारों के साथ ऐसी घटना हुयी है। कल किसी और जनपद के पत्रकारों की आवाज का गला घोंटने का प्रयास किया जायेगा।