कथित ईओ मुकेश जौहरी की चमचागीरी के चलते किशोर की जान गई

घटना स्थल पर लगी भीड़ एवं इंसेट में मुकेश जौहरी।

बदायूं जिले के कस्बा बिसौली में ईओ के पद पर कुंडली मारे बैठे मुकेश जौहरी की मनमानी के चलते आज एक किशोर की जान चली गई, लेकिन मृतक का परिवार मुकेश जौहरी का दोष सिद्ध कर पाने में असमर्थ है, जिससे वह साफ बच जायेगा। मृतक किशोर के परिवार में हाहाकार मचा हुआ है।

बताते हैं कि बिसौली में हरिओम नाम का व्यक्ति संविदा पर सफाई कर्मचारी के पद पर नियुक्त है, उसकी जगह बेटा भोला (17) भी काम कर लेता है। बताते हैं कि एसडीएम आवास में सफाई करने के लिए भोला को लगा दिया गया, वह घास छील रहा था, तभी उसे किसी विषैले जीव ने काट लिया, जिससे उसकी मौत हो गई। लोगों ने उसे मृत अवस्था में ही देखा। बाद में परिजन उसे सहसवान में देशी उपचार के लिए ले गये, लेकिन वहां भी मना कर दिया गया। मृतक के परिजन आक्रोशित हैं और वे कार्रवाई चाहते हैं, जिस पर पुलिस ने शव का पंचनामा भर दिया।

बताते हैं कि कथित ईओ मुकेश जौहरी की बरेली जिले की नगर पंचायत दियोरनियाँ में ट्यूबवैल ऑपरेटर के पद पर नियुक्ति हुई थी, लेकिन भ्रष्टाचार के सहारे बदायूं जिले में आकर ईओ का पद हथिया लिया और 12 वर्षों से भ्रष्टाचार को निरंतर बढ़ावा दे रहा है। हाल-फिलहाल बिसौली, फैजगंज बेहटा और बिल्सी में नियमों के विरुद्ध ईओ का पद हथियाए हुए है। ईओ के पद पर बने रहने, भ्रष्टाचार और मनमानी करने के उद्देश्य से अफसरों और नेताओं की जमकर चमचागीरी करता है, जिससे आज एक किशोर की जान ही चली गई, लेकिन रिकॉर्ड में भोला का कहीं कोई उल्लेख ही नहीं है, जिससे भोला की जान जाने का आरोप किसी पर भी नहीं लग सकता।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

अब भाजपा नेताओं की गोद में खेलने लगा भ्रष्ट व कथित ईओ मुकेश जौहरी

ईओ का पद हथियाने वाले भ्रष्ट मुकेश जौहरी ने अर्जित की अकूत संपत्ति

Leave a Reply