समाजवादी पार्टी की किसी से लड़ाई नहीं है: धर्मेन्द्र

क्षेत्र में भ्रमण के दौरान बच्चों से बात करते युवा सांसद व सपा प्रत्याशी धर्मेन्द्र यादव
क्षेत्र में भ्रमण के दौरान बच्चों से बात करते युवा सांसद व सपा प्रत्याशी धर्मेन्द्र यादव

बदायूं लोकसभा क्षेत्र के गाँव मोहम्मदपुर, उसैता, अर्सिस, कुंवरगांव, बनेई, बादल, हुसैनपुर तथा नगर बदायूं के मोहल्ला ऊपरपारा में सघन प्रचार अभियान के दौरान सपा प्रत्याशी व सांसद धर्मेन्द्र यादव ने नुक्कड़ सभाओं को संबोधित करते हुए कहा कि कहा कि सपा की लड़ाई किसी दूसरे दल से नही है। बोले- पांचों विधान सभा क्षेत्रों के सपा नेताओं व सपा कार्यकर्ताओं के बीच ही लड़ाई है कि किस विधान सभा क्षेत्र में ज्यादा वोटों से आगे होगें। पार्टी का हर नेता दावा कर रहा है कि सपा प्रत्याशी का हम अपने विधान सभा क्षेत्र से सबसे ज्यादा मत दिलाकर विजयी बनायेगें।

उन्होंने आगे कहा कि मैनें विकास का एजेन्डा पांच साल पहले लेकर के जनता का दरबाजा खटखटाया था और आज भी आपका दरबाजा विकास के एजेंडे के साथ ही खटखटा रहा हूँ। बोले- पिछले दो सालों में मैनें प्रदेश की समाजवादी पार्टी की सरकार की मदद से मेडिकल कॉलेज, कन्या विद्या धन बेरोजगारी भत्ता, सड़को का जाल, पुल, कब्रिस्तान की बाउन्ड्री, लैपटॉप, ऐम्बुलेन्स सेवा व अन्य विकास की योजनाये पूरी कराईहैं। आपके जिले व प्रदेश में जितनी भी विकास की योजनायें चल रही हैं, वह केवल उत्तर प्रदेश की सपा सरकार की योजनायें हैं और जिस दिन दिल्ली की चाबी सपा मुखिया के हाथ में होगी, उस दिन दिल्ली के खजाने का मुंह बदायूं की ओर खोल दिया जायेगा।
सपा प्रत्याशी धर्मेन्द्र यादव ने कहा कि जिस तरह आप के बदायूं विधान सभा क्षेत्र में साम्प्रदायिक पार्टी के नेताओं ने नफरत और मतभेद लोगों के बीच में पैदा किया था, उससे जनता परेशान थी। 2009 में जब मैं पहली बार बदायूं में चुनाव लड़ने आया था, उस वक्त जिन्होंने जनता में मेरे बारे में अनर्गल बयानबाजी की थी, आज उन्हें ही बदायूं की जनता ने क्षे़त्र से बाहर का रास्ता दिखा दिया है। बोले- कांग्रेस व कई अन्य ऐसे दल है, जिनके पास आज न उम्मीदवार है और न कार्यकर्ता। बिना नाम लिये सांसद ने कहा कि जब अपने प्रदेश में जगह नहीं मिली, तो उत्तर प्रदेश में लड़ने आये गये। कैसे नेता हैं, जिन्हें अपने ही घर में जगह नहीं है।
इस मौके पर जिलाध्यक्ष/मंत्री श्री बनवारी सिंह यादव, विधायक आबिद रजा, प्रदेश सदस्य हर प्रसाद पटेल, महासचिव सुरेश पाल सिंह चौहान, मोतसाम सिद्दीकी, विधान सभा क्षेत्र अध्यक्ष ओमवीर यादव, तोताराम प्रधान, जानकी प्रधान, ज्वाला प्रसाद कश्यप, डा. राजवीर व मोहम्मद मियां प्रधान सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

संबंधित लेख पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

चक्रव्यूह में फंसे नज़र आ रहे हैं धर्मेन्द्र यादव

Leave a Reply