व्यक्ति के लिए शिक्षा सबसे बड़ा उपहार: जावेद उस्मानी

मैग़जीन ई-गव के उत्तर प्रदेश संस्करण का विमोचन करते मुख्य सचिव जावेद उस्मानी।
मैग़जीन ई-गव के उत्तर प्रदेश संस्करण का विमोचन करते मुख्य सचिव जावेद उस्मानी।
उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव जावेद उस्मानी ने कहा कि व्यक्ति के शासकीय सेवा में आने की तिथि को ही सेवानिवृत्ति होने का समय निर्धारित होता है। उन्होंने कहा कि सेवानिवृत्ति के समय व्यक्ति के कार्यों एवं व्यवहार की प्रशंसा ही नहीं होती, बल्कि कनिष्ठ उनका अनुसरण भी करते हैं। उन्होंने कहा कि शासकीय सेवा में कार्य सम्पादित करने के साथ-साथ मृदुल व्यवहार एवं विनम्रता अच्छे कर्मचारी की पहचान होती है। व्यक्ति को अपनी शासकीय सेवा में अपने शासकीय दायित्वों के निर्वहन के साथ-साथ आमजनों के प्रति अच्छा व्यवहार एवं उनकी समस्याओं को दूर करने के लिए अधिक से अधिक प्रयास करना चाहिए। उन्होंने कहा कि शिक्षा सबसे बड़ा उपहार है, जो व्यक्ति को अपने पैरों पर खड़ा होने के लायक बनाती है। मुख्य सचिव आज अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में मुख्य सचिव कार्यालय के निजी सचिव महेश चन्द्र जोशी के सेवानिवृत्ति विदाई समारोह के अवसर पर अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने कहा कि श्री जोशी विगत 2008 से मुख्य सचिव कार्यालय में निजी सचिव के रूप में तैनात थे, जिनकी कार्यप्रणाली, विनम्रता और निष्छल स्वभाव की थी। उन्होंने कहा कि श्री जोशी अपने शासकीय कार्य के साथ-साथ एक समाजसेवी धार्मिक संगठन से भी जुड़े हैं, जिनके माध्यम से अनेक सामाजिक कार्यों का आयोजन कराकर निर्धन छात्र-छात्राओं को निःशुल्क टीकाकरण एवं पाठ्य पुस्तकें आदि वितरित कराकर प्रोत्साहित करते रहे हैं। विदाई समारोह में स्टाफ आफीसर मुख्य सचिव आर0डी0 पालीवाल, विशेष सचिव गोपन श्री कृष्ण गोपाल, निजी सचिव सहित अन्य स्टाफ कर्मी उपस्थित थे।
 
प्रदेश में आई0टी0 उद्योग को प्रोत्साहित करने हेतु अनेक योजनाओं तथा नीतियों को प्रभावी ढंग से क्रियान्वयन कराने हेतु प्रदेश सरकार के निर्देश: मुख्य सचिव
उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव जावेद उस्मानी ने कहा कि प्रदेश में आई0टी0 उद्योग को प्रोत्साहित करने हेतु अनेक योजनाओं तथा नीतियों को प्रभावी ढंग से क्रियान्वयन कराने हेतु निर्देश दिए गए हैं, ताकि उद्यमी अधिक से अधिक निवेश प्रदेश में करने हेतु प्रोत्साहित हो सकें। उन्होंने कहा कि प्रदेश में उद्योग के निवेश हेतु उद्यमियों को अधिक से अधिक सुविधाएं उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा कि लखनऊ शहर में आई0टी0 सिटी परियोजना की स्थापना तथा विकसित उद्योगों को प्रदेश के महत्वपूर्ण योजनाओं में चिन्हित कर क्रियान्वयन कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि लखनऊ एवं आगरा के साथ-साथ प्रदेश के अन्य शहरों में भी आई0टी0 पार्क विकसित किए जाने की विस्तृत योजना है। उन्होंने कहा कि सूचना प्रौद्योगिकी नीति-2012 के अनुसार उद्यमियों को अनेक वित्तीय एवं गैर वित्तीय प्रोत्साहन अर्थात् स्टाम्प ड्यूटी में छूट आदि अनेक सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं।
मुख्य सचिव आज होटल ताज विवान्ता, गोमती नगर, लखनऊ में आई0टी0 एवं इलेक्ट्रानिक विभाग द्वारा आयोजित दो दिवसीय ई-उत्तर प्रदेश कार्यशाला का उद्घाटन करने के उपरान्त अपने विचार व्यक्त कर रहे थे, जिसमें देश-विदेश की कई नामी आई0टी0 कम्पनियों जैसे इन्टेल, एच0पी0, आई0बी0एम0, सैमसंग, माइक्रोसाफ्ट आदि द्वारा प्रतिभाग किया गया। उन्होंने कहा कि विश्व की वृहद् एवं लघु स्तरीय सूचना प्रौद्योगिकी कम्पनियों के लिए उत्तर प्रदेश एक निवेशक गंतव्य के रूप में उभर रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा निवेशकों के साथ अग्रगामी सम्पर्क, आवश्यक इन्फ्रास्ट्रक्चर तथा मानव संसाधन के विकास एवं सूचना प्रौद्योगिकी नीति का प्रभावी निष्पादन कर प्रदेश में उद्योग वातावरण का माहौल बनाया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश राज्य को सूचना प्रौद्योगिकी उद्योग को विश्व पटल पर लाने के लिए अनेक महत्वपूर्ण कार्य किए गए हैं, जिसका लाभ उद्यमियों को अधिक से अधिक उठाना चाहिए।
औद्योगिक विकास आयुक्त आलोक रंजन ने कहा कि प्रदेश में औद्योगिक माहौल बनाने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा उद्यमियों को अधिक से अधिक सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि शहरी क्षेत्रों में शासकीय सेवाएं आमजन को उपलब्ध कराने के उद्देश्य से जनपद स्तर पर डिस्ट्रिक्ट ई-गवर्नेन्स सोसाइटी/लोकवाणी सोसाइटी के अधीन निजी क्षेत्र की संस्थाओं द्वारा जनपद प्रशासन की अनुमति से लोकवाणी केन्द्रों की स्थापना कराए जाने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के विभिन्न जनपदों में लगभग 3500 लोकवाणी केन्द्र स्थापित हैं। उन्होंने कहा कि ई-छात्रवृत्ति योजना के अन्तर्गत निर्धन बच्चों को देय छात्रवृत्ति आनलाइन उनके खाते में हस्तान्तरित कराकर लाभान्वित कराया जा रहा है।
प्रमुख सचिव, आई0टी0 एवं इलेक्ट्रानिक्स विभाग, जीवेश नन्दन द्वारा राज्य सरकार की पिछले 18 महीनों में आई0टी0 एवं ई-गवर्नेन्स के क्षेत्र में अर्जित उपलब्धियों पर प्रकाश डालते हुये अवगत कराया गया कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य राज्य में आई0टी0 उद्योग को प्रोत्साहित करना है। उन्होंने प्रदेश सरकार द्वारा उठाये गये कदमों से कम्पनियों को अवगत कराते हुए कहा कि प्रदेश सरकार का उद्देश्य है कि राज्य में अधिक से अधिक निवेश करने हेतु प्रोत्साहित किया जाए। उन्होंने बताया कि इस आई0टी0 शो कार्यक्रम में देश-विदेश की विभिन्न कम्पनियों द्वारा प्रदेश में अपनी भविष्य की योजनाओं के बारे में जानकारी प्रदान करने हेतु अपने स्टाल लगाए गए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में आई0टी0 के मूलभूत ढांचे को बेहतर बनाने की दिशा में और अधिक प्रयास किए जा रहे हैं।
मुख्य सचिव द्वारा प्रदेश में चल रहे आई0टी0 प्राजेक्ट्स को दृष्टांकित यू0पी0 पवेलियन का उद्घाटन करने के उपरान्त इलीट्स टेक्नोमीडिया लिमिटेड द्वारा ई-गवर्नेन्स से सम्बन्धित संचालित मैग़जीन ई-गव के उत्तर प्रदेश संस्करण का विमोचन किया गया। कार्यक्रम में राज्य में संचालित एस0एस0डी0जी0 योजनान्तर्गत स्टेट पोर्टल के माध्यम से सर्वाधिक ट्रान्जैक्शन्स दर्ज कराने वाले शीर्ष तीन जनसेवा केन्द्र संचालकों (प्रत्येक सर्विस सेन्टर एजेन्सी में से सर्वाधिक ट्रांजेक्शन्स करने वाले एक) को मुख्य सचिव द्वारा पुरस्कृत किया गया। पुरस्कार पाने वालों में रुखसाना नाहिद, मेसर्स सी0एम0एस0 कम्प्यूटर्स लिमिटेड महोबा, नरेन्द्र सिंह, मेसर्स वयम टेक्नोलाजीज़ लिमिटेड आगरा, मदन सिंह यादव, मेसर्स सहज ई-विलेज लिमिटेड गाजीपुर रहे, जिन्हें पुरस्कार स्वरूप एक-एक लैपटाप एवं स्मृति चिन्ह् प्रदान किया गया।
आई0टी0 शो कार्यक्रम में देश-विदेश की विभिन्न कम्पनियों द्वारा उत्तर प्रदेश में अपनी भविष्य की योजनाओं के बारे में जानकारी प्रदान करने हेतु अपने स्टाल लगाये गए इस कार्यक्रम के माध्यम से प्रदेश की आई0टी0 एवं ई-गवर्नेन्स के क्षेत्र में उठाए गए कदमों जैसे लैपटाप डिस्ट्रीब्यूशन, आई0टी0 पार्क, आई0टी0 सिटी, नवनिर्मित आई0टी0 पालिसी-2012 पर मुख्य रूप से चर्चा हुई, जिसमें प्रदेश में मजबूत होते आई0टी0 के मूलभूत ढ़ांचे को बेहतर बनाने की दिशा में किये जा रहे प्रयासों के बारे में विस्तार से वर्णन किया गया तथा भविष्य की अपार सम्भावनाओं वाले अन्य क्षेत्र जैसे आई0टी0एस0एम0ई0, हिन्दी बी0पी0ओ0, आई0टी0 ट्रेनिंग के क्षेत्र में प्रदेश की व्यापक सम्भावनाओं पर प्रकाश डाला गया। कार्यक्रम में प्रतिभाग करने वाले अन्य प्रमुख डिग्निटरीज़ तथा भारत सरकार के संयुक्त सचिव डी0ई0आई0टी0वाई0 राजेन्द्र कुमार एवं इन्टेल, ए0एम0डी0, एच0पी0, माइक्रोसाफ्ट आदि कम्पनियों के शीर्ष पदाधिकारियों सहित प्रदेश के विभिन्न विभागों के सचिव/प्रमुख सचिव, विशेष सचिव इत्यादि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Leave a Reply