विधायक और डीएम ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का दौरा किया

बांध का कटान हर हाल में रोका जाए: डीएम

जनरेटर लगाकर चौबीस घण्टे कार्य करने के निर्देश

टोंटपुर करसरी के बाढ़ पीड़ितों की सुरक्षा हेतु लगाई जाएगी पुलिस

टैंट लगा कर बसाया गया गाँव।
टैंट लगा कर बसाया गया गाँव।

बदायूं की सहसवान तहसील के ग्राम टोटपुर करसरी और चौकीदार की मढै़यां में हो रहे कटान और गंगा में ग्राम टोटपुर करसरी के समा चुके सात पक्के मकानों की स्थिति, एवं बाढ़ पीड़ितों को उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं का जिलाधिकारी सीपी त्रिपाठी ने सहसवान के विधायक ओमकार सिंह, उप जिलाधिकारी हरिशंकर यादव के साथ मौके पर पहुँच कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया और 24 घण्टे कार्य कर प्रत्येक दशा में बांध कटान को रोकने के निर्देश दिए हैं। जिलाधिकारी ने कहा कि वह बाढ़ खण्ड के अधीक्षण अभियन्ता तथा अधिशासी अभियन्ता से बात करेंगे। जिलाधिकारी ने बांध को हरहाल में बचाने हेतु जनरेटर लगाकर अधिक संख्या में लेबर के साथ 24 घण्टे पत्थर आदि डालकर कटान को रोकने के निर्देश दिए है। मौके पर मौजूद बाढ़ खण्ड के सहायक अभियन्ता गंगा सिंह ने बताया कि उनके साथ जेई दिलशाद अहमद, सूरज पाल, रामवीर सिंह एवं मनोज कुमार बांध पर रूककर बांध को बचाने हेतु हर सम्भव प्रयास कर रहे हैं।

जिलाधिकारी ने कटान से हो रहे रिटायर्ड बांध पर जाकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया तो उन्होंने उसे नाकाफी बताते हुए पत्थर आदि मंगाकर त्वरित गति से काम कराने के निर्देश दिए हैं। बांध के कटान से ग्राम टोटपुर करसरी और चौकीदार की मढै़यां के अलावा बाढ़ का पानी आ जाने से ग्राम भमरौलिया, परौटी, गिरधारी, रज्जू, तैलीया, एवं खाकी नगला सहित लगभग एक दर्जन गांवों के 300 से अधिक बाढ़ पीड़ित परिवारों को जिला प्रशासन ने सुरक्षित स्थान जीएम बांध पर शरण स्थली बनाकर उनको समस्त सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है। ग्राम टोंटपुर को अब

बाढ़ पीढ़ितों से वार्ता करते विधायक ओमकार सिंह यादव और डीएम।
बाढ़ पीढ़ितों से वार्ता करते विधायक ओमकार सिंह यादव और डीएम।

बांध के दूसरी ओर बसाया है और जिलाधिकारी ने नए बसे टोंटपुर करसरी सहित जीएम बांध पर शरण लिए बाढ़ पीड़ितों हेतु उपलब्ध कराने वाली सुविधाओं की घोषणा करते हुए कहा कि जिला चिकित्सालय के डाक्टर यहां आकर कैम्प करेंगें और पानी में डालने हेतु क्लोरीन की गोलियां तथा सभी परिवारों को उल्टी दस्त की दवा का भी वितरण करने के साथ-साथ पशु चिकित्सा अधिकारी गांव में रूककर जानवरों का टीकाकरण करेंगे। पशु विभाग द्वारा बाढ़ पीड़ितों के जानवरों हेतु भूसा भी बांटा गया था। इसके अलावा जिलाधिकारी ने नए बसाए गए ग्राम टोंटपुर करसरी हेतु चकबंदी में भूमि सुरक्षित कराने के साथ-साथ गांव में नेडा विभाग द्वारा दो सोलर लाइटों तथा जल निगम द्वारा दो इण्डिया मार्का हैण्ड पम्प और गांव वालों की सुरक्षा हेतु पुलिस की डयूटी लगाने के निर्देश दिए हैं। जिला तथा तहसील प्रशासन द्वारा बाढ़ पीड़ितों को शरण हेतु सुरक्षित स्थान, तिरपाल, भोजन, जानवरों का चारा, दवाईयों सहित आवश्यकतानुसार अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है। इस अवसर पर तहसीलदार दातागंज सुभाष यादव, सीओ सहसवान बाढ़ खण्ड के अभियन्ताओं सहित ग्रामीण मौजूद रहे।

Leave a Reply